Connect with us

Uncategorized

अमेरिका और उत्तर कोरिया बात तो करेंगे लेकिन सनकी तानाशाह के होटेल का बिल कौन भरेगा?

Published

on

सिंगापुर। सिंगापुर के किनारे पर स्थित एक आईलैंड रिसार्ट में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई समकक्ष के बीच शिखर सम्मेलन होना है। इस शिखर सम्मेलन को सफल बनाने के लिए अमेरिकी इवेंट प्लानर दिन रात काम कर रहे हैं, जिससे कि दोनों राष्ट्राध्यक्षों की मुलाकात में प्योंगयांग न्यूक्लियर प्रोग्राम को समाप्त करने को लेकर कोई फैसला लिया जा सके।

कौन भरेगा होटल का बिल 
लेकिन इस शिखर वार्ता का एक मुद्दा अभी अनसुझला है, जिसमें ये तय नहीं हो सका है कि उत्तर कोरियाई नेता के होटल में ठहरने का भुगतान कौन करेगा। इस होटल में एक रात रुकने का किराया 6000 डॉलर है। ऐसे में सिंगापुर के इस शानदार होटल में किराया देना एक बड़ा मुद्दा है। वहीं, आर्थिक तौर पर कमजोर उत्तर कोरियाई देश के लिए किराया भुगतान काफी महंगा हो सकता है।

भुगतान को लेकर राजनयिक स्तर पर बातचीत
होटल के बिल के भुगतान को लेकर राजनयिक स्तर पर भी लड़ाई चल रही है। व्हाइट हाइस के डिप्टी चीफ ऑफ स्टॉफ जोइ हैगिन और किंम जोंग उन के चीफ ऑफ स्टॉफ मामले को देख रहे हैं। दोनों 12 जून की प्रस्तावित बैठक के आड़े बिल भुगतान को नहीं आने देना चाहते हैं।

आखिरकार मान गए ट्रंप
कई हफ्तों का सस्पेंस के बाद आखिरकार अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने उत्तर कोरियाई नेता के साथ बैठक को लेकर अपनी रजामंदी दे दी है। राजनयिकों के प्रयास से इस मीटिंग को सफल बनाया जा रहा है। ट्रंंप की ओर से शुक्रवार को इसे लेकर घोषणा की गई। इससे पहले ट्रंप की ओर से किसी भी उकसावे के स्थिति में वार्ता रद्द करने की बात कही जा रही थी।

 सिंगापुर से भुगतान पर चर्चा
दरअसल अमेरिका उत्तर कोरियाई नेता के होटल बिल का भुगतान करने के लिए तैयार था। लेकिन उत्तर कोरिया ने अमेरिका भुगतान को अपना अपमान माना। ऐसे में अमेरिका शिखर वार्ता के रणनीतिकारों ने कोरियाई प्रतिनिधि मंडल के बिल के भुगतान के लिए मेजबान देश सिंगापुर से भुगतान के लिए विचार कर रहे हैं।
पहले भी दूसरे देश करते आए हैं भुगतान 
उत्तर कोरिया के विदशी मामलों के जानकार स्कॉट सिंडर ने कहा कि उत्तर कोरिया को बराबरी सतह पर व्यवहार किया जाए। हालांकि इससे इतर इतिहास में पहले भी उत्तर कोरिया के बिलों का दूसरे देशों ने भुगतान किया है। अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक कमेटी ने 22 नार्थ कोरियाई एथलीट का यात्रा खर्च का भुगतान किया। वहीं, जब वर्ष 2014 में अमेरिका की नेशनल इंटेलीजेंट के निदेशक आर क्लैपर ने उत्तर कोरिया का दौरा किया था। उस वक्त अमेरिकी को अपने अधिकारी के लिए रहने और खाने के बिल का भुगतान करना पड़ा था। दक्षिण कोरिया में 2000 के दशक में पूर्व दक्षिण कोरिया राष्ट्रपति किम डाई ने एक फैसला लिया था, जिसमें उत्तर कोरिया को विदेशी यात्रा के लागतों के भुगतान के लिए बहुत गरीब देश कहा था।

किम के लिए विमान की समस्‍या 
होटल भुगतान के अलावा उत्तर कोरिया के समक्ष एक बड़ा मुद्दा यात्री विमान का होगा, क्योंकि उत्तर कोरिया के पास सोवियत काल का पुराना विमान है, जिससे सिंगापुर की 3000 मील यात्रा करना संभव नहीं होगी। ऐसे में यह उत्तर कोरिया के लिए शर्मिंदगी की वजह बन सकता है। इससे बचने के लिए किंम चीन में अपना विमान लैंड कर सकते हैं या फिर किसी दूसरे देश के विमान से सफर की योजना बना सकते हैं।

यहां हो सकती है वार्ता
कई अन्य मुद्दों को अलग कर दें, तो दोनों नेताओं के मिलने का स्थान तय करना है। माना जाता है कि दोनों राष्ट्राध्यक्ष की वार्ता के लिए सिंगापुर के दक्षिणपूर्व तट पर स्थित सेंटोसा के रिजॉर्ट द्वीप के कैपेला होटल चुनाव हो सकता है।ट्रंप अपनी सिंगापुर की यात्रा के दौरन संगरी-ला होटल में रुक सकते हैं, जहां की सुरक्षा व्यवस्था उच्च स्तरीय मानी जाती है। यह सालाना तौर पर संगरी-ला वार्ता का आयोजन करना है, जहां दर्जनों रक्षा मंत्री शिरकत करते हैं।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!