Connect with us

LOCAL NEWS

उ प्र शासन के आदेश E tendring को ताख पर रख UPPCL मे सुचारू रूप से चल रहा रजत ‌ सेवा केन्द्र*

Published

on

वाराणसी 12 दिसम्बर उ प्र पावर कार्पोरेशन के शक्तिभवन से ले कर सभी डिस्कमो मे बज रहा है रजत सेवा केन्द्र के भ्रष्टाचार का घन्टा । खुले आम खुल कर बड़े पैमाने पर लूट के खेल को अंजाम विधिवत अन्जाम दिया जाता है हमने आप से वादा किया था की जल्द होगा रजत सेवा केन्द्र की कहानी का उद्घाटन तो आइए हम आपको इस सेवा केन्द्र की मायावी दुनिया से वाकिफ करा कर पर्दा उठाते है यह सेवा केन्द्र UPPCL सहित उसके सभी डिस्कमो के फाइनेन्स के डायरेक्टरों की कमजोरी बन चुका है मानो पूरे सिस्टम मे कैन्सर के वायरल की तरह फैल चुका है इतने महत्वपूर्ण माने जाने वाले इस विभाग मे इस तथाकथित एकाउन्ट बनाने वाली कम्पनी का लगभग 20 वर्ष से एकक्षत्र राज करती चली आ रही है जिसका मुख्य कारण फाइनेन्स मे सभी प्रकार के होने वाले भ्रष्टाचार को बाखूबी एकाउंट मे मे सही तरीके से सही जगह पर फिट बैठने का माहिर होना माना जाता है ।
( सूत्रों ) विभीषण के हवाले से खबर है की यह एक मात्र कम्पनी लगभग 20 वर्षो से Uppcl सहित उसके सभी डिस्कमो मे अकेले अपनी गोलमाल की कलाओ से कब्जा बना कर दोनो हाथो से मलाई पैदा कर सभी को खिला रहा है तभी तो रजत सेवा केन्द्र यहाँ पर काबिज है और मुहमांगी कीमत पर काम करती चली आ रही है इतना ही नही Uppcl सहित हर डिस्कॉम मे किसको कितनी मोटी मलाई किस अधिकारी को खिलानी है यह भी कम्पनी के मुखिया से ले कर सभी प्रतिनिधि बाखूबी जानते है
*योगी जी के आदेश को ठेगे पर रख शासनादेश की धज्जियां उड़ाई जा रही है Uppcl*
उ प्र सरकार के मुख्यमंत्री ने अपना कार्यभार ग्रहण करने के साथ ही प्रदेश को भ्रष्टाचार मुक्त बनाने का संकल्प लिया उसी वक्त उ प्र के सभी विभागों के आलाधिकारियों को निर्देशित किया गया था कि कोई भी अधिकारी या कर्मचारी अपने सम्बंधित विभाग मे किसी भी प्रकार के ठेके का काम नही करेगा पर सूत्र बताते है की Uppcl सहित सभी डिस्कमो मे फाइनेन्स मे एकाउंट बनाने का काम करने वाली फर्म शक्तिभवन भवन मे काम करने वाले एक ताकतवर लेखाकार की बताई जाती है जो कि शक्तिभवन मुख्यालय मे बैठ कर इस पूरे लूटपाट औऱ हजारो करोड़ का घोटाला करने वाले महकमे मे इस पूरे खेल को अंजाम दे रहा है और Uppcl और उसके सभी डिस्कमो के आलाधिकारी खुलेआम मुख्यमंत्री के आदेश की धज्जियां उड़ा रहे है पर ना तो वित्त निदेशक उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन लिमिटेड या चेयरमैन उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन लिमिटेड श्रीमान आलोक कुमार बडे बाबू को भी अपनी नाक के नीचे हो रहे इतने बडे गोल माल से बेखबर है या जान बूझकर अनजान बने है या किसी दबाव मे अनजान बनने का नाटक कर रहे है आप की ईमानदारी पर हमको कोई शक नही है बड़े बाबू पर आप का कोई कार्रवाई न करना आप को भी सवालो के घेरे मे खड़ा कर देता है बड़े बाबू आप कुछ भी समझो हम तो घन्टा बजाना जारी रक्खेगे

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!