Connect with us

Economics

किन लोगों को काफी कम कीमत में मिलता है ट्रेन का टिकट, जान लीजिए

Published

on

नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। भारतीय रेलवे वर्तमान समय में टिकट की कीमतों पर 53 विभिन्न श्रेणियों के अंतर्गत छूट उपलब्ध करवाता है। रेलवे के आधिकारिक पोर्टल indianrail.gov.in के मुताबिक यह छूट 25 फीसद से 100 फीसद तक होती है। हम अपनी इस खबर के माध्यम से आपको जानकारी दे रहे हैं कि किस वर्ग के किन लोगों को कितनी छूट उपलब्ध करवाई जाती है।

किन लोगों को मिलती है छूट: ऑफलाइन माध्यम से टिकट खरीदने पर विकलांग व्यक्तियों, मरीजों, वरिष्ठ नागरिकों, पुरस्कार विजेता (अवार्डी), शहीदों की विधवाएं, छात्रों, युवाओं, कलाकारों, खिलाड़ियों, मेडिकल प्रोफेशनल्स और अन्य लोगों को छूट उपलब्ध कराई जाती है। हालांकि अगर ऑनलाइन माध्यम से टिकट बुक कराई जाती है तो इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन (आईआरसीटीसी) पर सिर्फ वरिष्ठ नागरिकों को ही छूट उपलब्ध करवाई जाती है।

रेल टिकिटों पर मिलने वाली छूट से जुड़े नियम:

  • विकलांग (अस्थि विकलांगता) या पक्षाघात के पीड़ित विकलांग लोग जो कि किसी दूसरे की मदद के बिना नहीं चल सकते हैं, किसी अन्य के साथ सफर कर रहे दृष्टि विकलांग, किसी अन्य के साथ सफर कर रहे मानसिक विकलांग व्यक्तियों को सेकेंड क्लास, स्लीपर क्लास, फर्स्ट क्लास, थर्ड एसी, एसी चेयर कार के टिकट में 75 फीसद छूट उपलब्ध करवाई जाती है, जबकि फर्स्ट एसी और सेकेंड एसी के टिकट पर 50 फीसद की छूट दी जाती है। जबकि ऐसे यात्रियों को थर्ड एसी और शताब्दी और राजधानी के एसी चेयर कार में 25 फीसद की छूट उपलब्ध करवाई जाती है।
  • एक गूंगे एवं बहरे व्यक्ति को जो या तो अकेले सफर कर रहा हो या फिर किसी के साथ सफर कर रहा हो उसे रेलवे के सेकेंड क्लास, स्लीपर और फर्स्ट क्लास में 50 फीसद की छूट उपलब्ध करवाई जाती है।
  • अकेले या किसी के साथ सफर कर रहे कैंसर के मरीजों को जो कि उपचार या चेकअप के लिए यात्रा कर रहे होते हैं उन्हें सेकेंड क्लास, फर्स्ट क्लास और एसी चेयर कार में 75 फीसद की छूट उपलब्ध करवाई जाती है। वहीं ऐसे यात्रियों को रेलवे के स्लीपर एवं थर्ड एसी कोच में 100 फीसद की छूट यानी मुफ्त में टिकट उपलब्ध करवाया जाता है। वहीं फर्स्ट एसी एवं सेकेंड एसी में ऐसे यात्रियों को 50 फीसद तक की छूट उपलब्ध करवाई जाती है।
  • थैलेसीमिया बीमारी से पीड़ित मरीजों को जो या तो अकेले सफर कर रहे हों या फिर किसी सहायक के साथ जो कि ट्रीटमेंट या चेकअप के लिए यात्रा कर रहा हो, हृदय संबंधी बीमारी से जूझ रहे मरीजों जो कि सर्जरी के लिए अकेले या किसी के साथ यात्रा कर रहे हों, किडनी की समस्या से जूझ रहे मरीज जो कि अकेले या फिर किसी के साथ उपचार एवं इलाज के संबंध में यात्रा कर रहे हों उन्हें सेकेंड क्लास, स्लीपर, फर्स्ट क्लास, थर्ड एसी, एसी और एसी चेयरकार में 75 फीसद की छूट मिलती है, जबकि फर्स्ट एसी और सेकेंड एसी में 50 फीसद तक की छूट मिलती है।
  • 60 वर्ष के ऊपर की उम्र के सभी पुरुषों को इंडियन रेलवे की तरफ से 40 फीसद की छूट उपलब्ध करवाई जाती है, जबकि 58 वर्ष के ऊपर की महिलाओं को 50 फीसद तक की छूट उपलब्ध करवाई जाती है। यह छूट राजधानी, शताब्दी और दूरंतो जैसी ट्रेनों में भी उपलब्ध करवाई जाती है।
  • ऐसे बेरोजगार युवा जो कि केंद्र सरकार या फिर राज्य सरकार के अंतर्गत किसी नौकरी के लिए इंटरव्यू के स्थान पर जाने के लिए यात्रा कर रहे हैं तो वो सेकेंड एवं स्लीपर क्लास में 50 फीसद की छूट प्राप्त कर सकते हैं। हालांकि कुछ युवाओं को सेकेंड क्लास में 50 फीसद तक की छूट उपलब्ध करवाई जाती है।
Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!