Connect with us

सीतापुर

जनता की नजरों में असली हीरो है लहरपुर के उप जिला अधिकारी रामदरस राम

Published

on

 

लहरपुर के एसडीएम रामदरस राम गरीब असहाय लोगों के मसीहा बनकर कर रहे काम

निर्वाण टाइम्स संवाददाता
सीतापुर : लहरपुर उप जिला अधिकारी रामदरस राम की सकुशल कार्यशैली से क्षेत्र में बह रही अमन-चैन की बहार और जनता मान रही उप जिला अधिकारी राम दरस राम को असली हीरो
कोरोना महामारी में
कोरोना फाइटर्स की तरह बेखौफ होकर काम कर रहे उप जिला अधिकारी रामदरस राम की क्षेत्र में हो रही सराहना सराहनीय कार्यों से पहचाने जाते हैं उप जिलाधिकारी राम दरस राम अपना दायित्व निभाने के लिए अपनी जान की परवाह किए बिना जनता की सुरक्षा के लिए सजग रहते हैं और एक-एक गांव जाकर के ग्रामीणों का हाल-चाल जानते हैं
कोरोनावायरस की महामारी में दिन-रात अपनी जान की परवाह किए बिना क्षेत्र में लोगों को जागरूक व राहत सामग्री हर गरीब असहाय लोगों तक पहुंचाते चले आ रहे हैं
लहरपुर एसडीएम साहब रामदरस राम वही तर्ज पर काम कर रहे हैं ज्योति से ज्योति जलाते चलो सबको गले से मिलाते चलो राह में आए कोई दीन दुखी तो उसको गले से लगाते चलो प्रेम की गंगा बहाते चलो ।

दिल में समाज सेवा के लिए कुछ कर गुजरने जुनून और दृढ़ इच्छाशक्ति आपको अपनों के बीच एक खास स्थान दिला देती है जब प्रेरणा स्रोत के बारे में जानना चाहा तो वह बताते हैं कि उन्हें लगता है कि उनका जन्म सिर्फ गरीबों और असहाय लोगों की सेवा के लिए हुआ है प्रेरणा स्रोत के बारे में पूछने पर वह कहते हैं कि समाज सेवा की प्रेरणा उन्हें अपने पिता से मिली है और हमारा जो कर्तव्य है हम उन्हें कर्तव्यों को निभाने के लिए काम कर रहे हैं जो जिम्मेदारियां है उन्हें तो निभाना ही है परिस्थितियां चाहे जो भी हो परिस्थितियों के अनुसार कार्य ही करना चाहिए

जब क्षेत्रीय लोगों से राम दरस राम के कार्यों को जानना चाहा तो क्षेत्रीय लोग कहते हैं कि ऐसे अधिकारियों में ईश्वर का अंश होता है एसडीएम रामदास राम के बारे में जब मितौली क्षेत्र के रहने वाले जगदीश प्रसाद बाजपेई से बात की गई तो उन्होंने बताया कि यदि उप जिलाधिकारी राम दरस राम ना होते तो हमारी जमीन पर हमारा ही कब्जा नहीं होता हम उन्हें और उनके परिवार को दुआएं देते हैं और लंबी उम्र की दुआएं करते हैं एक एक नेत्र हीन बुजुर्ग अपनी जमीन पाने के लिए सालों से तहसील मुख्यालय मितौली के चक्कर काट रहा था जब मितौली तहसील उप जिलाधिकारी राम दरस राम पहुंचे तो बुजुर्ग को सम्मान सहित बैठा कर जांच पड़ताल कर पूरा मामला गंभीरता से समझा नहीं लेतेहुए समस्या को चुटकी बजाते ही निस्तारण कर दिया और प्रशासन के साथ जेसीबी भेज कर अपने पैसों से गरीब की जमीन को खाली करा दिया और बुजुर्ग की जमीन पर बुजुर्ग का ही कब्जा करा दिया इस कार्य को देखकर मितौली क्षेत्र में गरीबों के हौसले बुलंद हो गए और फिर उप जिला अधिकारी ने मितौली के ऐसे कई मामलों को निस्तारण कराया था अब लहरपुर उप जिला अधिकारी के पद पर हीरो बनकर ही काम कर रहे हैं रामदास राम

उप जिलाधिकारी रामदास राम के बारे में जानकारी की गई तो जनता ने अपना हीरो रियल मानकर उनकी सराहना की इतना ही नहीं पब्लिक कहती है उप जिला अधिकारी रामदास राम ही ऐसे एक उप जिला अधिकारी है जो अनलीगल काम नहीं कर सकते चाहे कितना भी प्रेशर दबाव क्यों ना हो इतना ही नहीं जिस जनपद और जिस क्षेत्र मैं उप जिला अधिकारी रामदास राम ने काम किया है उस जनपद और क्षेत्र में उनके अलग पहचान बनी हुई है और वहां के लोग अभी भी एसडीएम साहब को याद करते हैं और बहुत से गरीब उनको लंबी उम्र की दुआएं देते हैं

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!