Connect with us

NATIONAL NEWS

…तो ‘बचकाना’ हरकत के लिए राहुल गांधी के खिलाफ फतवा जारी कराना चाहते हैं ओवैसी

Published

on

नई दिल्‍ली, एएनआइ। एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी एक बार फिर अपने विवादित बयान को लेकर चर्चा में हैं। इस बार उन्‍होंने कांग्रेस पार्टी और राहुल गांधी पर निशाना साधा है। ओवैसी का कहना है कि अगर कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी जैसी हरकत वह करते तो उनके खिलाफ अभी तक फतवा जारी हो जाता।

दरअसल, ओवैसी राहुल गांधी द्वारा संसद में अविश्‍वास प्रस्‍ताव पर बहस के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गले लगाने पर तंज कर सकते थे। एक सभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा, ‘संसद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया था और राहुल गांधी ने उसी व्यक्ति को गले लगाया, जिसके खिलाफ प्रस्ताव लाए थे। अगर मैं जाऊं और मोदी से हाथ मिला लूं तो मेरे खिलाफ फतवा जारी हो जाएगा। लेकिन राहुल गांधी के पीएम मोदी से गले मिलने पर कांग्रेस नेताओं ने एक शब्द भी नहीं बोला।’

कर्नाटक जेडीएस के अध्यक्ष एच. विश्वनाथ ने संसद में अविश्वास प्रस्ताव की बहस के दौरान कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी द्वारा पीएम मोदी के गले लगने को बचकानी हरकत बताया। उन्‍होंने कहा इसकी कोई जरूरत नहीं थी, ये एक बचकानी हरकत थी।

गौरतलब है कि विपक्ष के लाए गए अविश्वास प्रस्ताव पर 11 घंटों की लंबी बहस चली, जिसके बाद मोदी सरकार ने सदन में अपना बहुमत साबित कर दिया था। वोटिंग के बाद सदन में विपक्ष का लाया गया अविश्वास प्रस्ताव गिर गया। प्रस्ताव के पक्ष में कुल 126 मत पड़े जबकि विपक्ष में 325 मत पड़े। लेकिन राहुल गांधी ने बहस के दौरान मोदी सरकार पर कई आरोप लगाए और अपनी बात खत्‍म करने के बाद वह पीएम मोदी से गले मिलने उनकी सीट पर पहुंच गए। इस पर कई नेताओं ने आपत्ति जताई थी। लेकिन कांग्रेस ने राहुल के इस बर्ताव को सामान्‍य बताया।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!