Connect with us

LUCKNOW

नरेश अग्रवाल ने प्रधानमंत्री को क्या कह दिया? जिससे साहू समाज नाराज़,आप भी पढ़े

Published

on

पीएम मोदी पर जातिसूचक टिप्पणी

लखनऊ में अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन उत्तर प्रदेश की बैठक की कार्रवाई शुरू हुई तो नरेश अग्रवाल ने कहा कि जातियों के षड्यंत्र में हमारी आबादी को छिपा दिया गया। कोई भी नगर या तहसील ऐसी नहीं जहां हमारी संख्या न हो। बावजूद इसके हमारी संख्या को सही तरीके से नहीं दिखाया जा रहा है। यह एक राजनीतिकषड्यंत्र है। यही कारण है कि राजनीतिकदल हमारी शक्ति को महसूस नहीं कर पा रहे हैं। हम देश के सबसे बड़े आयकरदाता हैं। दुनिया के अन्य आयकरदाताओं की तरह हमें भी विशेष सुविधाएं मिलनी चाहिए। जीएसटी से हुए नुकसान का जिक्र करते हुए उन्होंने प्रधानमंत्री पर जातिसूचक टिप्पणी कर दी। इस पर वहां बैठे साहू समाज के लोगों ने खड़े होकर अपनी आपत्ति दर्ज कराना शुरू कर दी और हंगामा शुरू कर दिया। काफी समझाने के बाद लोगों का गुस्सा शांत हुआ। इसी बीच सांसद बैठक से चले गए।

संगठन विस्तार के लिए तीन जोन गठित

राष्ट्रीय महामंत्री गोपाल एम मोर ने कहा कि देश में 25 करोड़ वैश्य समाज के लोग राष्ट्र की प्रगति में अपना योगदान कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि वैश्य वर्ग के 52 उपवर्ग हैं। कार्य की दृष्टि से यूपी को तीन जोन में विभक्त किया जा रहा है। पूर्व, पश्चिम और मध्य जोन बनाया गया है, जहां संगठन कार्य को विस्तार दिया जाएगा। सभी उपवर्गों में रोटी बेटी के संबंध को बढ़ाया जाना आवश्यक है। राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. दाऊजी गुप्त ने कहा कि भारत ही नहीं विश्व के कई देशों में वैश्य समाज अग्रणी भूमिका में है। अध्यक्षता कर रहे प्रदेश अध्यक्ष नटवर गोयल ने वैश्य समाज से एकजुटता का आह्वान करते हुए कहा कि प्रदेश में चार करोड़ वैश्य विभिन्न उपवर्गों से हैं। उन्हें एकजुट करने का प्रयास निरंतर संगठन करता रहा है। कासगंज में हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना में चंदन गुप्ता की मौत पर समाज के लोग दुखी हैं। प्रदेश सरकार उनके परिवार को बड़ी आर्थिक मदद करे और उनके भाई को सरकारी नौकरी उपलब्ध कराए।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!