Connect with us

Uttar Pradesh

पूर्व विधायक शशि बाला पुंडीर ने सड़क हादसे में मृतकों के परिजनों से की मुलाकात, DM से कहा तत्काल दे मुआवजा 

Published

on

सहारनपुर 【उत्तर प्रदेश】 गत दिवस सड़क हादसे में जान गवॉ चुके ,, थाना देवबंद गांव मकबरा निवासी रवि और प्रदीप के घर आज भाजपा नेता एवं पूर्व विधायक शशि बाला पुंडीर पहुंची तथा मृतकों और घायलों के परिजनों को सांत्वना देते हुए उनके दुख दर्द में शामिल हुई। पूर्व विधायक शशि बाला पुंडीर ने गांव से ही दूरभाष पर जिलाधिकारी श्री पी के पाणडे से वार्ता कर मृतक तथा घायलों के परिजनों को आर्थिक पारिवारिक लाभ तथा मुआवजा तत्काल उपलब्ध कराने को कहा ।
पूर्व विधायक शशि बाला पुंडीर ने इस दौरान नौजवानों से भी आह्वान किया कि जान अमूल्य है इसलिए वह वाहनों को धीमी गति से सुरक्षित होकर चलाए, ताकि जान माल की हानि ना हो और परिजनों को बाद में तड़पना ना पड़े। आपको बताते चलें कि थाना देवबंद क्षेत्र के मकबरा गांव निवासी रवि पुत्र नाहरसिंह अपनी बुआ के बेटे की शादी में शामिल होने के लिए साथी प्रदीप पुत्र बाबूराम, सुकेस अमीन के साथ बाइक पर कलसिया के लिए निकला था जैसे ही वह देहात कोतवाली क्षेत्र के पेपर मिल रोड स्थित टपरी के पास पहुंचे तो सहारनपुर की ओर से आ रहे बाइक सवार अंकित पुत्र सियापाल व कमल पुत्र राकेश निवासी बुड्ढा खेड़ा, चरथावल, मुजफ्फरनगर के साथ उनकी जबर्दस्त टक्कर हो गई। दोनों बाइकों की टक्कर होने से पॉचो बाइक सवार सड़क पर गिर गए । जिनहे नागल की ओर से आ रहे ट्रक ने कुचल दिया। जिससे पॉचो युवक गंभीर रूप से घायल हो गए । दुर्घटना के बाद क्षेत्र में अफरा तफरी मच गई,, हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और ट्रक को कब्जे में लेकर घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने रवि और प्रदीप को मृत घोषित कर दिया । दो घायलों की हालत गंभीर होने के कारण उनहे हायर सेंटर रेफर कर दिया। पुलिस ने परिजनों को इसकी सूचना दी। जिसपर परिवार में कोहराम मच गया ,, बड़ी संख्या में परिजन जिला अस्पताल पहुंचे। बता दे कि रवि बसपा के पूर्व विधायक जगपाल सिंह का रिश्तेदार है। जो सूचना मिलते ही बसपा जिलाध्यक्ष जनेश्वर प्रसाद समर्थकों के साथ,, जिला अस्पताल पहुंचे । आज पूर्व विधायक शशि बाला पुंडीर परिजनों से उनके घर जाकर मिली और उनके दुख दर्द में शामिल होकर शशि बाला पुंडीर ने तत्काल जिलाधिकारी श्री पी के पांडे से दूरभाष पर वार्ता कर पारिवारिक लाभ और मृतक आश्रितों को मुआवजा देने की बात कही।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!