Connect with us

Kanpur

प्रापर्टी डीलर का अपहरण, पुलिस ने छुड़ाया, दारोगा व सिपाही चुटहिल

Published

on

कानपुर, शारदानगर के पास रविवार शाम बाइक से अपनी साथी के साथ जा रहे एक प्रापर्टी डीलर का फिल्मी अंदाज में अपहरण कर लिया गया। अपहर्ता असलहे के बल पर उसे कार में डालकर ले गए। साथी की सूचना पर पुलिस सक्रिय हुई। प्रापर्टी डीलर के मोबाइल पर लगातार मैसेज भेजकर लोकेशन ट्रेस करते हुए पुलिस ने 45 मिनट पीछा कर दो अपहर्ताओं को दबोच लिया।
पीछा होता देख उन्होंने अपहृत को दलहन क्रासिंग के पास फेंक दिया था। कार की टक्कर से एक दारोगा व सिपाही चुटहिल हो गए। अपहरण करने वाला भी प्रापर्टी डीलर है जिसने अपने भाई और साथियों के साथ वारदात की। भाई के साथ वह अब पुलिस की गिरफ्त में है।
गूबा गार्डेन कल्याणपुर निवासी राहुल सिंह भदौरिया अपने साथी आशीष के साथ बाइक पर जा रहे थे। शारदानगर के पास पहुंचते ही कार सवार शारदानगर निवासी नितिन श्रीवास्तव, उसके भाई सचिन और अन्य साथियों ने राहुल को रोक लिया। रिवाल्वर लगाकर उसे कार में डालकर ले गए। आशीष की सूचना पर कल्याणपुर पुलिस ने नाकेबंदी शुरू कर दी।
सीओ कल्याणपुर अजय कुमार के मुताबिक गुरुदेव चौकी प्रभारी धर्मेद्र सिंह और कल्याणपुर थाने के सिपाही अनिल ने इंस्पेक्टर कैलाश दुबे के साथ बाइक से कार का पीछा शुरू किया। कार चला रहे नितिन ने नमक फैक्ट्री चौराहा से दोबारा शारदा नगर होते गुरुदेव चौराहे की तरफ होते हुए दलहन की तरफ भागना शुरू कर दिया। गुरुदेव चौकी प्रभारी ने दलहन से क्रासिंग होते हुए घेराबंदी की तो अपहर्ताओं ने ब्रह्मदेव मंदिर के पास राहुल को फेंक दिया। राहुल चौकी प्रभारी की बाइक पर बैठ गया।
उधर, अपहर्ताओं ने शारदानगर में गुप्ता आटा चक्की के पास रोकने के प्रयास पर सिपाही अनिल की बाइक में टक्कर मार दी। अनिल और पीछे बैठे इंस्पेक्टर कैलाश दुबे चुटहिल हो गए। इसके बाद भी दोनों पीछा नहीं छोड़ा और विनायक नगर झडा चौराहे के पास कार को घेर लिया। दारोगा धर्मेद्र सिंह व सिपाही अनिल ने सचिन व नितिन को पकड़ लिया।
तीन साथी भाग निकलने में कामयाब रहे। कल्याणपुर इंस्पेक्टर अश्विनी कुमार पाडेय ने बताया कि नितिन व सचिन से एक 200 गज के प्लाट के लेनदेन के विवाद की बात सामने आई है। आरोपितों से अवैध रिवाल्वर व अपहरण में प्रयुक्त कार बरामद हुई है। फरार साथियों में चौबेपुर के एक प्रधान का भी नाम आ रहा है।
खुद को प्रधान बताने वाले ने मांगी 15 लाख रुपये फिरौती
राहुल ने बताया कि दो कारों में सवार पाच युवकों ने उसे अगवा किया। उसकी कनपटी पर रिवाल्वर लगाकर कहा कि यदि सलामती चाहते हो तो 15 लाख का रुपये इंतजाम करो। खुद को चौबेपुर का प्रधान बताने वाले ने पैसा न मिलने पर जान से मारने देने की धमकी दी। रास्ते भर पीटते भी रहे।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!