Connect with us

Uttar Pradesh

फर्जी’ एनकाउंटर के बाद एक और संगीन आरोप में घिरी यूपी पुलिस, सिपाही ने की लड़की से छेड़छाड़

Published

on

एक और संगीन आरोप में घिरी यूपी पुलिसकर्मियों की शर्मसार करने वाली करतूत से यूपी पुलिस की साख पर बट्टा लगा रहा है।…

नोएडा । उत्तर प्रदेश सरकार बदमाशों के खिलाफ सख्त कार्रवाई और ‘एनकाउंटर’ के जरिये भले ही वाहवाही लूट रही हो, लेकिन कुछ चुनिंदा पुलिसकर्मियों की शर्मसार करने वाली करतूत से यूपी पुलिस की साख पर बट्टा भी लगा रहा है। नोएडा में तथाकथित फर्जी एनकाउंटर के बाद ताजा मामले में दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा में पुलिसकर्मी पर थाने में ही एक लड़की से छेड़छाड़ का गंभीर आरोप लगा है। बताया जा रहा है कि लड़की अपने साथ हुए अन्याय की शिकायत लेकर आई थी, लेकिन पुलिसकर्मी ने उसकी रिपोर्ट लिखने के बजाय उसी से छेड़छाड़ शुरू कर दी। पूरा मामला गौतमबुद्धनगर के सूरजपुर कोतवाली क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, एक नाबालिग लड़की शिकायत लेकर सूरजपुर कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली कुलेसरा चौकी आई थी। पीड़िता के मुताबिक, चौकी में मौजूद सिपाही देवेंद्र से न्याय की आस में शिकायत दर्ज करने की गुहार लगाई। वहीं, सिपाही देवेंद्र ने कानून की मर्यादा के साथ इंसानियत को भी शर्मसार करते हुए उस नाबालिग लड़की से छेड़छाड़ शुरू कर दी। विरोध करने पर सिपाही ने नाबालिग लड़की को धमकाने की बात भी सामने आ रही है।

वहीं, पूरा मामला सार्वजनिक होने के बाद पूरे महकमे में हड़कंप मच गया। मीडिया ने जैसे ही मामला उठाया तो पुलिस ने अपने सिपाही देवेंद्र पर कार्रवाई करते हुए लड़की की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है।

इस तरह का यह पहला मामला नहीं है जब यूपी पुलिस ऐसे आरोपों में घिरी हो। पिछले महीने 11 तारीख को ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर इलाके में ही पुलिसकर्मी पर मकान मालिक की छह साल की बच्ची से दुष्कर्म करने का मामला सामने आया था।

जानकारी के मुताबिक, ग्रेटर नोएडा के पास सूरजपुर स्थित एसएसपी ऑफिस के पीछे बने एक मकान में यूपी पुलिस के सिपाही ने छह साल की मासूम बच्ची से दुष्कर्म किया था। वारदात के बाद आरोपी अपने कमरे में जाकर सो गया। वारदात की सुबह बच्ची के परिजनों को घटना के बारे में पता चला तो वह पड़ोसियों के साथ सिपाही के घर पहुंच गए।

भीड़ ने सिपाही को दबोच लिया और उसकी पिटाई कर पुलिस को सौंप दिया। सूरजपुर कसबे में एसएसपी ऑफिस के पीछे एक परिवार किराये के मकान में रहता था। पड़ोस में यूपी पुलिस का सिपाही भी किराये पर कमरा लेकर रहता था। सिपाही कलेक्ट्रेट के समीप बने सेल टैक्स के दफ्तर में तैनात है।

आरोप है कि घटना की शाम सिपाही बच्ची को बहला-फुसलाकर अपने कमरे ले गया। जहां उसने बच्ची से रेप किया। जिसके बाद उसने बच्ची को उसके घर छोड़ दिया और खुद घर में आकर सो गया।

परिवार के लोगों को सुबह घटना के बारे में पता चला तो वह सिपाही के घर जा पहुंचे। इस बीच लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई। भीड़ ने सिपाही के साथ मारपीट कर दी। जिसके बाद उसे पुलिस को सौंप दिया।

बता दें कि इसी महीने की चार फरवरी को नोएडा के सेक्टर 122 में एक पुलिस सब-इंस्पेक्टर (एसआई) पर एक जिम ट्रेनर युवक जितेंद्र यादव को गोली मारने का मामला सामने आया था।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!