Connect with us

Uttar Pradesh

भदोही : बुढ़वा मंगल मेले में उमड़ा आस्था का सैलाब

Published

on

 

ड्रोन कैमरे से होती रही मेला क्षेत्र की निगहबानी

ज्ञानपुर/भदोही :- पवित्र सावन माह के आखिरी मंगलवार(बुढ़वा मंगल)को चकवा महावीर मंदिर में आस्थावानो का सैलाब उमड़ पड़ा ।ऐतिहासिक बुढ़वा मंगल मेले में हजारों भक्तों ने चकवा महावीर मंदिर में विराजमान बजरंगबली की विधि विधान से पूजा अर्चना की। संकट मोचन को भक्तों ने हलवा पूड़ी, लड्डू चढ़ा कर सुखद जीवन की कामना की। चकवा मंदिर महावीर में भोर से ही भक्तों की लंबी कतार लग गई थी। हाथ में पूजा सामग्री लिए कतारबद्ध श्रद्धालु अपनी बारी का इंतजार करते रहे ।पवनसुत के जयकारों से पूरा क्षेत्र गुंजायमान रहा।हालांकि दोपहर 12 बजे के बाद हुई रुकरुक बरसात के चलते मेले का आनंद कुछ किरकिरा रहा। बारिश के बावजुद मेले में
दर्शनार्थियोंं ने दिनभर मेले का खूब लुफ्त उठाया ।मेला परिसर में सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस कर्मियों की तैनाती चप्पे-चप्पे पर बनी रही।जिला पुलिस प्रशासन की ओर से समूचे मेला क्षेत्र में ड्रोन कैमरे से भी निगहबानी होती रही । सावन के अंतिम मंगलवार बुढ़वा मंगल को चकवा महावीर मंदिर में विराजमान अंजनी के लाल का भव्य श्रृंगार किया जाता है ।मारुति नंदन के दर्शन पूजन के लिए भक्तों का जमावड़ा लगा रहा ।भोर से शुरू हुआ पूजा पाठ का क्रम देर शाम तक चलता रहा ।मेले में बच्चों ने रंग-बिरंगे खिलौने खरीदने के साथ ही झूले का भरपूर आनंद उठाया। मेले मे सजी सभी दुकानों पर युवाओं- महिलाओं की भीड़ लगी रही ।दूर दराज से मेले में आई महिलाओं ने सौंदर्य प्रसाधन गृहस्थी के सामानों की खरीदारी की। मेले में लगे बड़े बड़े झूले आकर्षक का केंद्र बने रहे ।समय की गति के साथ मेले में मेलार्थियों की भीड़ बढ़ती गई ।मेले में चारों तरफ हंसी खुशी का माहौल बना रहा।

फोटो-सुरक्षा की दृष्टिकोण से तैनात पुलिसकर्मी

मेले में आई महिलाओं वह मेलार्थियों को किसी प्रकार की दिक्कत ना हो ,इसे लेकर मेला समिति के पदाधिकारी व प्रशासनिक अधिकारी पूरी तरह से सक्रिय नजर आए वही इडियन रेडक्रास सोसायटी की ओर से लोगों के स्वास्थ्य हेतु कैम्प लगाया गया था।तथा लायंस क्लब की ओर से नि:शुल्क पेयजल व्यवस्था की गई थी ।मेले में आए हर व्यक्तियों पर पुलिसकर्मियों की पैनी नजर बनी रही ।चकवा महावीर के मेले में चुटहिया जलेबी खूब बिकी। गुड़ से बनने वाली यह जलेबी मिठाई की सभी दुकानों पर एक सौ से लेकर
सवा सौ रुपए किलो के भाव से बिकी। जिसे महिलाओं ने खूब पसंद किया ।वहीं ठेलों पर सजा पेठा ,मूंगफली, गुड़ का सेंव , केले आदि की भरपूर खरीदारी हुई ।मेला देखने आई महिलाएं व पुरुष पैसे की परवाह किए बगैर ही खाद्य सामग्रियों व अन्य वस्तुओं की खरीददारी की। मेलार्थियों को किसी प्रकार की दिक्कत ना हो ,इसे लेकर मेला समिति के पदाधिकारी व प्रशासनिक अधिकारी पूरी तरह से सक्रिय नजर आए ।मेले में आए हर व्यक्तियों पर पुलिसकर्मियों की पैनी नजर बनी रही ।चकवा महावीर के मेले में चुटहिया जलेबी खूब बिकी। गुड़ से बनने वाली यह जलेबी मिठाई की सभी दुकानों पर एक सौ से लेकर
सवा सौ रुपए किलो के भाव से बिकी। जिसे महिलाओं ने खूब पसंद किया ।वहीं ठेलों पर सजा पेठा ,मूंगफली, गुड़ का सेंव , केले आदि की भरपूर खरीदारी हुई ।मेला देखने आई महिलाएं व पुरुष पैसे की परवाह किए बगैर ही खाद्य सामग्रियों व अन्य वस्तुओं की खरीददारी की।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!