Connect with us

Sultanpur

महामहिम राजपाल द्वारा मुईद अहमद बालिका महाविद्यालय के भवन का लोकार्पण

Published

on

 

सुल्तानपुर: दोस्तपुर में मुईद अहमद बालिका महाविद्यालय का भवन का हुआ शुभारंभ
सुल्तानपुर :-देश मे बालिकाओ की शिक्षा में बड़ा सुधार हुआ है प्रदेश में बेटियो की शिक्षा परफार्मेंस लड़को से बेहतर रही ।जिस देश की शिक्षा बेहतर उस देश का विकास बेहतर उक्त बातें प्रदेश के राज्यपाल रामनाईक ने दोस्तपुर में मुईद अहमद महिला महाविद्यालय के नव निर्मित भवन का शुभारंभ करते हुए कही । विद्यालय भवन के उद्घाटन कार्यक्रम में उनके साथ प्रदेश की काबीना मंत्री रीता बहुगुणा जोशी, राज्यसभा सांसद संजय सिंह ,पूर्व न्यायाधीश जीडी नकवी ,डॉ शादाब मोहम्मद ,जिया अफरोज नकवी पहुँचे थे कार्यक्रम के आयोजक पूर्व मंत्री मुईद अहमद ने सुबह 10 :22 पर पधारे मुख्य अतिथि राम नाईक की अगवानी की कार्यक्रम की शुरुआत राष्ट्रगान से हुई गान के पश्चात मुख्य अतिथि सभी समेत सभी अतिथियों का पुष्प गुच्छ व स्मृति चिन्ह देकर स्वागत किया गया । स्वागत भाषण में आयोजक मुईद अहमद ने कहा उनके पास राज्यपाल के स्वागत के लिए और उस कार्यक्रम में आने के लिए शब्द नहीं है वह निशब्द है विभिन्न विचारधारा , विभिन्न मान्यताओं के बाद भी विकास को लेकर राज्यपाल की जो सोच है निश्चित ही उन्हें महानतम बनाती है । कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रदेश की कबीना मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने कहा 1952 से लेकर आज तक महिला शिक्षा दिन दूनी रात चौगुनी तरक्की कर रही है । 21वीं सदी नारी सशक्तिकरण को समर्पित है। प्रधानमंत्री द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना इस में मील का पत्थर साबित हो रही है । प्रदेश के राज्यपाल लगातार आम आदमी के दिलों को छू रहे हैं इस बार प्रदेश के मेडिकल कॉलेजों में लड़कों की बजाय लड़कियां ज्यादा संख्या में अध्ययनरत हैं । उन्होंने पंडाल में मौजूद हजारों बालिकाओं को संबोधित करते हुए कहा लड़कियां चैटिंग के बजाय इंटरनेट का उपयोग ज्ञान अर्जन के लिए करें जिससे उनके जीवन में भी तरक्की का माहौल बने वह नवजीवन संवारने के लिए मजबूत हो । मुद्रा योजना ,बालिका शिक्षा योजना ऐसी योजनाएं हैं जिनसे देश में आम आदमी तरक्की कर रहा है । उन्होंने स्थानीय विधायक राजेश गौतम की मांग का भी जिक्र किया जिसमें उन्होंने दोस्तपुर बाजार में बाईपास व मझुई नदी में पुल निर्माण की मांग की थी इसके अतिरिक्त पर्यटन क्षेत्र से बिजेथुआ महावीरन व बेलवाई में सुंदरीकरण व व्यवस्थाओं को और सुंदर बनाने की बात कही । कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि आजादी के बाद से देश की तरक्की के लिए शिक्षा पर जोर दिया गया । संविधान के रचयिता डॉक्टर बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर ने कहा था कि जीवन में रहन सहन में ,खानपान में कटौती कर के भी शिक्षा ग्रहण करना देश की तरक्की और खुशहाली के लिए जरूरी है और वह किया जाना चाहिए आज प्रदेश शिक्षा के मामले में पिछड़ा हुआ है देश में साक्षरता का प्रतिशत भले ही बड़ा हो पर उत्तर प्रदेश में यह 67 परसेंट के करीब है जबकि अन्य राज्यों में इसका प्रतिशत कहीं अधिक है । विभिन्न मान्यताओं विभिन्न विचारों के बावजूद सभी दलों के नेताओं का सम्मान कर महामहिम राज्यपाल अपने पद को गौरवान्वित कर रहे है । उन्होंने विद्यालय की प्रगति के लिए ,विकास के लिए हर संभव मदद का आश्वासन दिया ।कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि राज्यपाल राम नाईक ने कहा इस कार्यक्रम में आना उनके लिए प्रसन्नता का विषय है । इस गांव में मैं एक बार आ चुका हूं और मेरे द्वारा रोपे गए पौधे का पेड़ बनते देखना सुखद क्षण है। मैंने दोस्त पुर के जनता से ,आयोजक से यहां आने का वादा किया था पहली बार राष्ट्रपति महोदय का कार्यक्रम होने से मेरा कार्यक्रम निरस्त हुआ दूसरी बार भयंकर बरसात के कारण मेरा नहीं आना नहीं हो पाया तीसरी बार मेरे कार्यक्रम में प्रधानमंत्री जी का वाराणसी दौरा लग जाने से रुकावट आई थी पर मैंने प्रधानमंत्री जी से बात कर अपनी समस्या बताई जिस पर देश के सहृदय प्रधानमंत्री ने जो जवाब दिया उससे मैं अभिभूत हुआ उन्होंने कहा कि देश के 125 करोड़ लोगों की समस्याओं को सुलझाने के लिए मैंने प्रधानमंत्री पद स्वीकार किया है तो आप भी उस में से एक हैं आपको मेरे वाराणसी दौरे में आने के बजाय उस कार्यक्रम में जाना चाहिए और वहां संदेश देना चाहिए उन्होंने मंच से प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर बधाई देते हुए कहा आज विश्वकर्मा पूजा के अवसर पर प्रधानमंत्री जी का जन्मदिन है वह भी विश्वकर्मा भगवान की तर्ज पर देश के निर्माण में दिन-रात जुटे हुए हैं आम जनता की दुआओं का असर है जो उनको इतनी मेहनत से काम करने को प्रेरणा देती है उनके कामों से दुनिया में भारत का सम्मान बढ़ा है बेटियो को अपने शिक्षा्धर्म के पालन का पाठ पढ़ाया । उन्होंने कहा बेटियों को अपने घर परिवार का काम करने के साथ साथ अपने शिक्षा धर्म का पालन करते रहना चाहिए। आज बालिकाओं की शिक्षा में अभूतपूर्व वृद्धि हुई है । राम मनोहर लोहिया विश्वविद्यालय पर बात करते हुए उन्होंने कहा बीते सप्ताह राम मनोहर लोहिया के दीक्षांत समारोह में 153880 उपाधियों का वितरण किया गया जिसमें लड़कों का प्रतिशत 40 साल लड़कियों का प्रतिशत 60 रहा यही नहीं पचासी पदकों में से 59 पदक बालिकाओं के हिस्से में आया जबकि लड़कों को 26 पदक मिले । उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई को याद करते हुए कहा पूर्व प्रधानमंत्री युगदृष्टा थे उनके द्वारा चलाए गए सर्व शिक्षा अभियान का परिणाम अब दिखने लगा है बालिकाओं की शिक्षा और उसकी गुणवत्ता में अभूतपूर्व वृद्धि हुई है । उन्होंने मंच से हेमवती नंदन बहुगुणा पुरस्कार का वितरण किया व सभी को बधाई देते हुए कहा धर्म के मायने लोगों के कर्तव्य से है हर मजहब की यही सीख है इंसानियत का कर्तव्य करते रहना ही असली धर्म पालन है । हिंदू मुस्लिम सिख इसाई यह धर्म की मान्यता है लेकिन असली धर्म इंसान के अपने कर्तव्य है कार्यक्रम को संबोधित करने के बाद लगभग 12:15 बजे मुख्य अतिथि का उड़न खटोला वापस राजधानी के लिए कूच कर गया ।
इनसेट:- गायिका निष्ठा शर्मा ने बाँधा समा कार्यक्रम में स्वामी हरिदास संगीत संस्थान के कलाकारों द्वारा संगीत का कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया कार्यक्रम में वौइस् ऑफ इंडिया की विजेता निष्ठा शर्मा को राज्यपाल द्वारा सम्मानित किया गया । निष्ठा शर्मा ने अपनी गायकी का राग छेड़ा तो हजारों छात्र छात्राओं में रोमांच आ गया तालियो की गड़गड़ाहट ने माहौल को नई उचाइयां दी । निष्ठा ने आगे बढ़ने की अपनी संघर्ष कहानी का बयान किया इस दौरान बालिकाओं का उत्साह देखते ही बन रहा था। वह निष्ठा शर्मा को तालियों की गड़गड़ाहट के साथ उनका लगातार उनके गीतों पर साथ देते झूमती नजर आई

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!