Connect with us

Uncategorized

मान मनौव्वल के बावजूद न्याय मिलने तक धरने पर अड़ी पीड़िता

Published

on

 

महिला हेल्पलाइन सहित सीओ व महिला थानाध्यक्ष समझाने में जुटे

बीकापुर-फैजाबाद-पति से गुजारा भत्ता व अपने हक की मांग के लिए 4 वर्षीय बच्ची के साथ धरने पर बैठी महिला का पांचवें दिन भी धरना जारी रहा। धरना के पांचवें दिन महिला हेल्प लाइन 181 का पांच सदस्यीय दल महिला थानाध्यक्ष प्रियंका पाण्डेय, सीओ बीकापुर अरविन्द चैरसिया ने धरना दे रही सोनम गुप्ता से वार्ता करने पहुंचे और न्याय दिलाने का वादा किया परन्तु न्याय मिलने से धरना जारी रखने पर पीड़िता अड़ी रही। महिला हेल्पलाइन दल में तीन महिला व दो पुरूष सदस्य शामिल थे। वहीं पीड़िता के समर्थन दर्जनों महिलाएं भी धरने पर सोमवार को बैठ गयी हैं।
बताते चलें कि बीकापुर कोतवाली क्षेत्र के कोछा बाजार निवासी आलोक अग्रहरि पुत्र राम शंकर अग्रहरि की पत्नी सोनम अग्रहरि का पति पत्नी में आपसी विवाद होने के कारण सोनम ने कोर्ट का सहारा लेते हुए पति से गुजारा भत्ता की मांग की है। कोर्ट के आदेश के बाद भी पति द्वारा गुजारा भत्ता ना दिए जाने पर सोनम अपने 4 वर्षीय पुत्री एन्जल के साथ 12 जुलाई से ही पति के घर के सामने अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गई।
धरने पर बैठी पीड़िता का कहना है कि अंधेरी रात्रि मे अकेली बच्ची के साथ खुले मे रहना दूभर हो गया है। रात्रि मे 9 बजते ही आसपास की दुकानो की बत्ती बन्द हो जाती है। जिससे अधेंरे मे रहना पड़ता है। बारिश होने पर पूरा सामान व फर्श गीला हो जाता है जिसके चलते तबीयत खराब हो जाती है। इसके बावजूद भी प्रशासन द्वारा कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है। महिला ने बताया कि न्याय मिलने तक यह धरना अनवरत जारी रहेगा। वही हल्का दरोगा सन्दीप त्रिपाठी ने बताया कि पुलिस द्वारा महिला की सुरक्षा के लिए पुलिस सिपाही को लगातार लगाया गया है। इसके बावजूद यदि उच्चाधिकारियो द्वारा कोई निर्देश दिया जाता है तो उसका कडाई से पालन कराया जायेगा।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!