Connect with us

Jhansi

यूपी में पुलिस सुरक्षा व्यवस्था की खुली पोल, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के कहने पर दर्ज होता है मामला

Published

on

संवाददाता धर्मेंद्र कुमार कि विशेष रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश में सीएम योगी और पुलिस मुखिया के तमाम दावों को झुठलाते हुए महिला अपराध का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। ताजा मामला झांसी से सामने आया है। जहां जिले के टहरौली इलाके में महिला के साथ कई बार छेड़खानी की गई जिस का विरोध करने पर उसे जान से मारने की धमकी दी गई। पीड़िता ने जब इसकी शिकायत थाने में की तो वहां अनसुनी की गई जिसके बाद थक हार कर पीड़िता ने एसएसपी ऑफिस में प्रार्थना पत्र दिया जिसमें बताया गया कि उसके साथ छेड़खानी की घटना पहले भी की जा चुकी है।

जानिए क्या है पूरा मामला*

झांसी : जानकारी के मुताबिक मामला टहरौली थाना क्षेत्र के मढ़ा डीलवली गांव में रहने वाली सुनीता देवी( काल्पनिक नाम) के साथ गांव में रहने वाले दबंग ने 27 अप्रैल की रात अश्लील हरकत की जिस का विरोध करने पर सुनीता को दबंग युवक ने जान से मारने की धमकी दी और भाग गया इस बात की जानकारी सुनीता ने मुंबई काम कर रहे अपने पति सुनील को दी। सुनील के घर आने के बाद दंपत्ति टहरौली थाने पहुंचा यहां प्रार्थना पत्र दिया गया लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। सुनीता द्वारा एसएसपी ऑफिस में दिए गए प्रार्थना पत्र में बताया गया है कि उसे थाने में 3000 लिए गए और मुकदमा लिखने का आश्वासन दिया गया। बावजूद इसके कोई कार्यवाही नहीं हुई इसके बाद पीड़िता झांसी एसएसपी ऑफिस पहुंची जहां डॉक्टर ओपी सिंह ने मामला दर्ज कर जांच करने की बात कही है।

मामले में बोले एसएसपी झांसी
वहीं मामले में एसएसपी झांसी ने बताया इस संदर्भ में टहरौली इंस्पेक्टर को आदेशित कर दिया गया है कि मामले की जांच करके मुकदमा दर्ज करें और जांच में दोषी पाये जाने पर आरोपी पर कार्रवाई होगी।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!