Connect with us

लखीमपुर खीरी

राम जानकी मंदिर पर गंदे जल भराव से ग्रामीण परेशान, संक्रमित बीमारियां फैलने का मंडरा रहा खतरा

Published

on

 

निघासन-खीरी।गंदे पानी की निकासी की समुचित व्यवस्था न होने से ग्रामीणों को काफी परेशानी उठानी पड़ रही हैं। बिना बारिश के ही मंदिर की आस पास कीचड़ व गंदा पानी भरा रहता है। बारिश होने पर तो मंदिर के आसपास की जगह तालाब का रूप धारण कर लेती हैं।हम बात कर रहे हैं विकास खंड निघासन की ग्राम पंचायत नोबना के मजरा मटेहिया की जहाँ बिना बारिश के भी मंदिर के आस पानी भरा हुआ है।नाली की भी व्यवस्था नहीं होती है।मंदिर का आने के लिए ज्यादा दिक्कत होती है।सड़को में बने गड्ढों की चपेट में आकर अक्सर राहगीर आते रहते हैं।गंदे जलभराव से गांव में बीमारियां फैलने का भी खतरा मंडराने लगा है। समस्या को लेकर ग्रामीण कई बार पंचायत मे प्रधान से मांग कर चुके हैं,लेकिन समस्या का समाधान नहीं हुआ है।

हल्की सी बारिश होने पर ही आसपास की जगह तालाब का रूप धारण कर लेती हैं और वहां से पैदल निकलना मुश्किल हो जाता है। (संतोष कुमार यादव मंदिर पुजारी)

लगभग पांच साल से मंदिर पर पर जलभराव हो रहा है,जरा सी बारिश होने पर तो मंदिर पर पानी भरा रहा गंदा पानी सबके घरों में घुसने लगता है,जिससे घरों में भी रहना मुश्किल हो जाता है।लोग गंदे पानी के बीच से ही आते- जाते हैं,कई राहगीर दुर्घटना का शिकार भी हो चुके हैं। कई बार संबंधित ग्राम प्रधान को सूचना देने के बाद भी समस्या का कोई समाधान नहीं हुआ।(राजेश कुमार पाल (ग्रामीण)

गंदे जलभराव के कारण गांव में मक्खी-मच्छरों का प्रकोप भी बढ़ गया है और गांव में बीमारियां फैलने की आशंका बनी हुई है। लोग काफी परेशान हैं।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!