Connect with us

Uncategorized

राष्ट्रपति भवन का सुरक्षा गार्ड निकला चोर, बैंक डकैती में रंगे हाथ गिरफ्तार

Published

on

जयपुर, ब्यूरो। राजस्थान पुलिस ने एक बैंक डकैती को नाकाम कर दिया। सबसे हैरानी वाली बात यह है कि पकड़े गए आरोपियों में से एक राष्ट्रपति भवन का एक सुरक्षा गार्ड भी शामिल है। राजस्थान के झुंझुनू जिले की एक बैंक में डकैती करने पहुंचे राष्ट्रपति भवन के सुरक्षा गार्ड सहित चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया।

पुलिस के अनुसार राष्ट्रपति भवन में लगे सुरक्षा गार्ड संदीप सिंह शेखावत और उसके चार साथी शनिवार देर रात करीब दो बजे झुंझुंनू के गु़ढ़ा गौड़जी स्थित यूको बैंक में डकैती डालने पहुंचे थे। चारों ने बैंक का शटर ऊंचा कर स्ट्रांग रूम व अलमारियों के ताले तो़ड़ दिए। इसी बीच पास ही रहने वाले किशोर गजेंद्र सिंह ने बैंक के अंदर आवाजें सुनी तो उसने परिजनों को इसकी सूचना दी।

पुलिस जब घटनास्थल पर पहुंची तो बैंक का शटर और उसके अंदर के गेट टूटे हुए मिले। जिस पर पुलिस ने घेराबंदी कर बैंक में धावा बोला तो अंधेरे का फायदा उठाकर तीन आरोपी भाग गए और किशोरपुरा निवासी विकास मीणा हथियारों के साथ पुलिस के हत्थे चढ़ गया, जिसे लाकर पूछताछ में उसने अपने तीन साथियों के नाम बताए। उसके साथियों में संजय सिंह, विकास मीणा और शक्ति सिंह शामिल हैं। ये सभी झुंझुनू जिले के निवासी हैं।
पुलिस थाना अधिकारी के अनुसार पक़़डे गए आरोपियों में संदीप सिंह राष्ट्रपति भवन की सुरक्षा में लगे अंगरक्षक दल (पीबीजी) का सदस्य है। वह पास के ही गांव किशोरपुरा का निवासी है। वह इन दिनों छुट्टी पर आया हुआ था। थाना अधिकारी अशोक चौधरी ने बताया कि वारदात में इस्तेमाल की गई कार को भी जब्त कर लिया गया है। यह कार सुरक्षा गार्ड संदीप सिंह की ही है। इसी में सवार हो कर सभी आरोपी वारदात को अंजाम देने आए थे। संदीप सिंह वर्ष 2009 में राष्ट्रपति के अंगरक्षक दल में भर्ती हुआ था। उसके पिता नरेंद्र सिंह भी राष्ट्रपति के अंगरक्षक दल में रहे हैं।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!