Connect with us

NATIONAL NEWS

विकास की मां के बाद अब पिता की मौत की फैलाई गई अफवाह, घर पर सकुशल

Published

on

सोमवार देर शाम विकास दुबे के पिता राम कुमार दुबे की हृदय गति रुकने से मौत की बात अफवाह निकली। हालांकि आला अफसरों तक मामला पहुंचते ही सीओ बिल्हौर ने दामाद दिनेश तिवारी के घर पहुंचकर जानकारी ली। वहां राम कुमार के ठीक मिलने पर हालचाल लेकर लौट गए। इससे पहले विकास दुबे की मां की मौत की अफवाह सोशल मीडिया पर फैलाई गई थी।

चौबेपुर क्षेत्र के बिकरू गांव में विकास दुबे का घर ध्वस्त करने के बाद से पुलिस ने उसके पिता राम कुमार दुबे को शिवली में दामाद दिनेश तिवारी के घर पर रखा है। सोमवार शाम अचानक सोशल मीडिया पर अफवाह उड़ी कि राम कुमार की मौत हृदय गति रुकने से हो गई है। इस पर कानपुर पुलिस व प्रशासन हरकत में आया। सीओ बिल्हौर संतोष कुमार सिंह को कोतवाल वीर पाल तोमर के साथ शिवली स्थित दिनेश के घर भेजा गया। वहां राम कुमार आराम से चारपाई पर लेटे मिले। बातचीत में सीओ से उन्होंने अपने रसूलाबाद निवासी भाई बृज किशोर के यहां जाने की इच्छा जताई। सीओ स्वजन से उनका ख्याल रखने की बात कहकर चले गए।

बता दें कि कानपुर का कुख्यात बदमाश और आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के मुख्य आरोपी विकास दुबे को एक यूपी पुलिस की एसटीएफ ने एक मुठभेड़ में मार गिराया है। गैंगस्टर विकास दुबे एनकाउंटर के बाद उसके पिता राम कुमार दुबे ने इसको सही ठहराया था। विकास दुबे के पिता ने कहा था कि मेरे बेटे का एनकाउंटर कर पुलिस ने सही किया। जब विकास दुबे के मरने की खबर उसकी मां सरला देवी को पता चली, तो उन्होंने मीडिया से दूरी बना ली और अपने आप को अपने घर में बंद कर लिया। यह भी कहा जा रहा है कि उनकी तबीयत भी बिगड़ गई है। सोशल मीडिया पर तो खबर फैल गई कि बेटे की मौत की खबर सुनकर मां की हृदय गति रुकने से मौत हो गई। हालांकि इस बीच सरला देवी ने पुलिस से कहा कि बेटे विकास दुबे से उनका कुछ लेना-देना नहीं है। उन्होंने कहा कि वह कानपुर नहीं जाना चाहती हैं। वह लखनऊ में हैं और वहीं रहना चाहती हैं।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!