Connect with us

Uttar Pradesh

शामली के कैराना सांसद तबस्सुम हसन की भाभी ने मिसेज इंडिया के टॉप फाइव में बनाई जगह

Published

on

ब्यूरो रिपोर्ट विनीत शर्मा

 

सहारनपुर: सहारनपुर के गोविंद विहार निवासी नीलम चौधरी ने दिल्ली में आयोजित मिसेज इंडिया 2018 के अंतिम पांच में जगह बनाई है। बता दें कि नीलम चौधरी कैराना सांसद तब्बसुम हसन की भाभी हैं। राजनीतिक परिवेश की मुस्लिम बहु ने अलग मुकाम की ओर कदम बढ़ाकर मिसाल पेश की है। अब अक्तूबर माह में प्रतियोगिता का ग्रांड फिनाले होगा। जिसमें नीलम के खिताब जीतने की प्रबल उम्मीद है।

राजनीतिक घराने की बहु हासिल कर रहीं अलग मुकाम

कैराना सांसद तब्बसुम हसन का परिवार सहारनपुर और शामली में अपनी विशेष पहचान रखता है। हसन परिवार के वसीम चौधरी की पत्नी नीलम चौधरी ने राजनीति से हटकर मॉडलिंग और फिटनेस के क्षेत्र में नाम कमाया है।

समाज सेवी संस्था अलोरा ग्रुप की ओर से दिल्ली में मिसेज 2018 का आयोजन किया गया था। बीते रविवार को देशभर की 90 प्रतिभागी महिलाओं ने प्रतिभाग किया।

घरवालों को मनाने में समय लग गया

इस प्रतियोगिता में 50 वर्ष तक की शादीशुदा महिलाओं ने हिस्सा लिया। मेंबर ज्यूरी ने विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से प्रतिभागियों को परखा। जिसके बाद अंतिम 15 का चयन किया गया। अब मंगलवार को ज्यूरी ने अंतिम पांच का चयन किया है। जिसमें सहारनपुर के गोविंद विहार निवासी नीलम चौधरी ने जगह बनाई है। उनकी इस उपलब्धी से परिवार में हर्ष का माहौल है। अब अगले माह ग्रांड फिनाले का आयोजन किया जाएगा।

नीलम चौधरी ने बताया कि वह समय से प्रतियोगिता का फार्म नहीं भर पाई थी। घरवालों को मनाने में समय लग गया। इसके बाद उनके पति वसीम चौधरी ने खुद प्रतियोगिता देखने के बाद प्रतिभाग करने की अनुमति दी। प्रतियोगिता से संतुष्ट होने पर नीलम ने ई-मेल के माध्यम से अपना फॉर्म और फोटो भेजे। संस्था को फोटो पसंद आए तो उन्होंने नीलम को वाइल्ड कार्ड से एंट्री दी।

वह अनाथ बच्चों की शिक्षा के लिये काम करेगी

नीलम ने स्थानीय इस्लामिया गर्ल्स इंटर कॉलेज से अपनी स्कूलिंग पूरी की। उन्होंने बताया कि स्कूल में मॉडलिंग प्रतियोगिता हुई तो उन्होंने प्रतिभाग किया और वह जीतीं थीं। नीलम चौधरी ने बताया कि उन्हें थायराइड की बीमारी थी। थायराइड के कारण उन्हें योगा करने का सुझाव दिया गया। योगा से उन्हें लाभ मिला। इसके बाद उन्होंने फिट रहने के लिये जिम शुरू किया।

वह 2017 में अल्टीमेट फिटनेस और 2018 में शेपअप फिटनेस भी रह चुकी है। हसन परिवार राजनीति के लिये जाना जाता है, लेकिन नीलम चौधरी को हर समय भीड़ में रहना पसंद नहीं। उनका कहना है कि राजनेता को लोगों की समस्याएं दूर करने के लिये हर समय उनसे घिरा रहना पड़ता है। वह अनाथ बच्चों की शिक्षा के लिये काम करेगी। अभी भी वह कई बच्चों की शिक्षा का खर्च उठा रहीं हैं।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!