Connect with us

Uncategorized

सप्ताह भर बाद भी नहीं हो पाई नामजद तीन अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी

Published

on

 

*अभी तक घटनास्थल भी नहीं पहुंच पाए कोई जिम्मेदार पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी*

*मृतका के पुत्र ने की मुख्यमंत्री समेत अन्य आलाधिकारियों से शिकायत*

आलापुर अंबेडकरनगर– आलापुर थाना क्षेत्र के चकमण्डफ गांव निवासिनी ज्ञानमती पत्नी स्वर्गीय श्याम सुंदर मिश्र हत्याकांड के नामजद आरोपियों को पुलिस सप्ताह भर बाद भी नहीं कर पाई गिरफ्तार। नामजद आरोपी उमेश, संजय व महेश की नहीं हो पाई अभी तक गिरफ्तारी। बीती एक जुलाई को हुई थी ज्ञानमती मिश्रा की हत्या। पुलिस ने आधा दर्जन लोगों के विरुद्ध हत्या के बजाय दर्ज किया था गैर इरादतन हत्या की धारा के तहत मुकदमा। आधा दर्जन आरोपियों में से पुलिस ने राकेश कुमार, प्रहलाद एवं राम लव मौर्य को गिरफ्तार कर भेजा था जेल लेकिन तीन अन्य नामजद आरोपियों की अभी तक नहीं हो पा रही गिरफ्तारी। मृतका के परिजनों के मुताबिक नामजद आरोपी कर रहे स्वच्छंद विचरण दे रहे तरह तरह की धमकी। सप्ताह भर बाद भी घटनास्थल नहीं पहुंच पाए जिम्मेदार पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी। बगैर किसी आदेश के आबादी की भूमि की हल्का लेखपाल फकीरचंद द्वारा की जा रही पैमाइश के दौरान प्रतिरोध करने पर हुई थी ज्ञानमती मिश्रा की हत्या। अभी तक आरोपी लेखपाल के विरुद्ध भी नहीं हो सकी कोई कार्यवाही। मृतका के पुत्र उमाशंकर मिश्र ने मुख्यमंत्री समेत अन्य आलाधिकारियों से लगाई न्याय की गुहार। आरोप है कि घटना के 15 दिन पूर्व हुई मारपीट की घटना की इलाकाई पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर की होती कार्यवाही तो शायद 1 जुलाई को नहीं होती चकमण्डफ गांव में ऐसी घटना, ज्ञानमती की बच सकती थी जान।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!