Connect with us

Ambedkarnagar

सबडिवीजन से डिवीजन बनने के बाद भी नहीं आ पाया सुधार

Published

on

 

संसाधनों एवं कर्मचारियों की रिक्तता का दंश झेल रहा विद्युत वितरण खंड आलापुर

आलापुर अंबेडकरनगर– दिन बीते क्षमता बढ़ी सैकड़ों गुना कनेक्शन बढ़े सबडिवीजन से डिविजन बना लेकिन नहीं हो पाई संसाधनों व कर्मियों की व्यवस्था। जिसके कारण नव सृजित विद्युत वितरण खंड आलापुर नहीं साबित कर पा रहा अपनी सार्थकता। विद्युत वितरण खंड बने 6 माह से अधिक की अवधि बीत जाने के बाद भी विद्युत वितरण खंड कार्यालय आलापुर में ड्राफ्टमैन स्टेनो एवं आधा दर्जन लिपिकों तथा अन्य कर्मियों की नहीं हो पाई तैनाती जिसके कारण विद्युत वितरण खंड का कार्य हो रहा प्रभावित। विदित हो कि सूबे में सत्ता परिवर्तन के उपरांत भाजपा सरकार ने रामनगर (आलापुर) एवं जलालपुर विद्युत वितरण उप खंड को ऊंच्चीकृत करते हुए बनाया विद्युत वितरण खंड। साथ ही दोनों जगह अधिशासी अभियंता की भी कर दी गई तैनाती। आलापुर में बतौर अधिशासी अभियंता तैनात किए गए लालचंद राम। लेकिन वितरण खंड में सृजित पदों के सापेक्ष अभी तक नहीं हो पाई तैनाती। रुदौली में तैनात कार्यालय सहायक राधे मोहन शर्मा का माह भर पूर्व आलापुर के लिए हुआ था स्थानांतरण। लेकिन अभी तक उनकी आलापुर में नहीं हो पाई आमद। पहले से ही लाईनमैनो एसएसओ एवं अन्य कर्मचारियों व संसाधनों की किल्लत का दंश झेल रहे विद्युत वितरण खंड आलापुर को अभी तक नहीं उपलब्ध कराई जा सकी बुनियादी सुविधाएं। आखिर विद्युत आपूर्ति व्यवस्था में सुधार हो भी तो कैसे उधर बकाया विद्युत देयो की वसूली का भी कार्य हो रहा प्रभावित। अधिशासी अभियंता लालचन्द के मुताबिक 80 फीसद बकाया विद्युत देयो की नहीं हो पाई है अब तक वसूली जिसके लिए प्रयास है जारी।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!