Connect with us

Uncategorised

18 वर्षीय इस खिलाड़ी ने सर डॉन ब्रेडमैन को भी छोड़ दिया पीछे, किया ऐसा काम नहीं कर पाया था कोई

Published

on

18 वर्षीय इस खिलाड़ी ने सर डॉन ब्रेडमैन को भी छोड़ दिया पीछे, किया ऐसा काम नहीं कर पाया था कोई18 वर्षीयइस खिलाड़ी ने सर डॉन ब्रेडमैन को भी छोड़ दिया पीछे, किया ऐसा काम नहीं कर पाया था कोई
टेस्ट क्रिकेट में सबसे बेहतरीन औसत की बात की जाए तो कोई भी खिलाड़ी अभी तक सर डॉन ब्रेडमैन को पीछे नहीं छोड़ पाया है।

नई दिल्ली, nirvan times। ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज खिलाड़ियों में शुमार सर डॉन ब्रेडमैन के नाम क्रिकेट के ढेरों रिकॉर्ड है और टेस्ट क्रिकेट में सबसे बेहतरीन औसत की बात की जाए तो कोई भी खिलाड़ी अभी तक उनको नहीं पछाड़ पाया है। फर्स्ट क्लास क्रिकेट में भी ब्रेडमैन का औसत सबसे अधिक था, लेकिन अब उन्हें एक 18 साल के युवा खिलाड़ी ने पीछे छोड़ है। अफगानिस्तान के इस खिलाड़ी का नाम है बहीर शाह। बहीर शाह ने 121.77 के औसत से रन बनाकर सर डॉन ब्रेडमैन को पीछे छोड़ दिया है। फर्स्ट क्लास क्रिकेट में ब्रेडमैन का औसत 95.14 का था।

सर्वाधिक फर्स्ट क्लास बल्लेबाज़ी औसत (जिन खिलाड़ियों ने एक हज़ार से ज्यादा रन बनाए हों)

1. बहीर शाह-           अफगानिस्तान-  औसत 121.77

2. सर डॉन ब्रेडमैन-   ऑस्ट्रेलिया-  औसत 95.14

3.विजय मर्चेंट-         भारत-        औसत 71.64

4. जॉर्ज हेडली-         वेस्टइंडीज़-    औसत 69.86

डेब्यू मैच में ही दिखाया कमाल

अफगानिस्तान के यंग क्रिकेटर बहीर शाह ने इसी सीजन में अपना फर्स्ट क्लास डेब्यू किया और पहले ही मैच में उन्होंने डबल सेन्चुरी (256* रन) लगाकर कमाल कर दिया। बता दें कि अपनी पहली धमाकेदार पारी के साथ शाह डेब्यू मैच में सबसे अधिक रन बनाने वाले दूसरे बल्लेबाज बन गए हैं। फर्स्ट क्लास डेब्यू में सबसे अधिक रन बनाने का रिकॉर्ड अभी तक मुंबई से खेलने वाले अमोल मजूमदार (260) के नाम दर्ज है।

बहीर ने तोड़ा 94 साल पुराना रिकॉर्ड

बहीर ने अपने फर्स्ट क्लास करियर में सिर्फ चार मैच खेले हैं। जिनमें वो 831 रन बना चुके हैं, जो कि सबसे ज्यादा रन बनाने का नया वर्ल्ड रिकॉर्ड है। इस अफगान क्रिकेटर ने अपने पहले मैच में 256*, दूसरे में 34 और 11, तीसरे में 111 और 116 और चौथे में नॉटआउट 303 रनों की इनिंग खेलकर ये रिकॉर्ड अपने नाम किया। बहीर से पहले ये रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के बिल पोंसफोर्ड के नाम था। जिन्होंने 94 साल पहले 1923 में अपने पहले चार फर्स्ट क्लास मैचों में 741 रन बनाए थे।

चौथे मैच में ठोका तिहरा शतक

अपने फर्स्ट क्लास करियर के चौथे मैच में बहीर ने नाबाद 303 रन की धमाकेदार पारी खेली। इसके साथ ही वो सबसे कम उम्र में फर्स्ट क्लास ट्रिपल सेंचुरी लगाने वाले दुनिया के दूसरे बल्लेबाज़ भी बन गए हैं। बहीर ने 18 साल 251 दिन की उम्र में ये कमाल किया। सबसे कम उम्र में तिहरा शतक लगाने का रिकॉर्ड पाकिस्तान के जावेद मियांदाद के नाम है, जिन्होंने 17 साल 310 दिन की उम्र में तिहरा शतक ठोका था।

फर्स्ट क्लास क्रिकेट में सबसे कम उम्र में ट्रिपल सेंचुरी लगाने वाले बल्लेबाज़

खिलाड़ी                   देश                   रन                      उम्र

जावेद मिंयादाद-   पाकिस्तान-         311 रन-          17 साल, 310 दिन

बहीर खान-       अफगानिस्तान       303* रन-         18 साल, 251 दिन

वसीम जाफर-       भारत                314* रन-          18 साल, 262 दिन

बरकरार है बहीर का जलवा

बहीर अब अफगानिस्तान की टीम के साथ अंडर-19 विश्व कप खेलने के लिए न्यूज़ीलैंड गए हुए हैं। न्यूज़ीलैंड में भी बहीर का बल्ला रनों का बरसात कर रही है। उन्होंने नेपियर में खेले गए वॉर्म अप मैच में पहली पारी में शतक जमाया और दूसरी पारी में उन्होंने 98 रन की दमदार पारी खेली। बहीर का कहना है कि अंडर-19 विश्व कप सभी युवा खिलाड़ियों के लिए खुद को प्रूव करने का एक बेहतरीन मौका है और मैं भी इस मौके को भुनाना चाहता हूं और इस टूर्नामेंट में दमदार प्रदर्शन करना चाहता हूं।

अपने हीरो के नक्शेकदम पर चल रहे बहीर

बहीर अपना हीरो द. अफ्रीका के हाशिम अमला को मानते हैं। अमला द. अफ्रीका की तरफ से टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक लगाने वाले एकलौते बल्लेबाज़ हैं। लेकिन बहीर ने तो ये काम अपने चौथे ही फर्स्ट क्लास मैच में कर दिखाया। भले ही बहीर ने फर्स्ट क्लास मैच में तिहरा शतक ठोका हो, लेकिन उन्होंने ये दमदार पारियां खेलकर ये तो दिखा ही दिया है कि इस खिलाड़ी में काबिलियत की कोई कमी नहीं है।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!