Uncategorised

जौनपुर: सरपतहां पुलिस पर बड़ा आरोप: पुलिस ने की होती कार्रवाई तो जिंदा होता आज मेरा भाई

जौनपुर: सरपतहां पुलिस पर बड़ा आरोप: पुलिस ने की होती कार्रवाई तो जिंदा होता आज मेरा भाई

दस दिनों पूर्व रहस्यमय ढंग से घर से हुआ था गायब
ओपी पाण्डेय
जौनपुर। खुटहन थाना क्षेत्र के तिसौली नहर में गुरुवार की देर शाम एक युवक का शव पाए जाने से सनसनी फैल गई। पुलिस ने शव को पानी से बाहर निकाल उसकी शिनाख्त का प्रयास किया तो उसकी पहचान सरपतहां थाना के खरताबपुर गांव निवासी प्रद्युम्न उपाध्याय के रूप में की गई। वह पिछले 10 दिनों से रहस्यमय तरीके से घर से गायब था। पुलिस शव को कब्जे में लेकर अंत्य परीक्षण हेतु भेज दिया। तो वहीं परिजनों का आरोप है कि सरपतहां थाने की पुलिस अगर कार्रवाई की होती तो आज मेरा भाई जिंदा होता। परिजनों का आरोप है कि प्रद्युम्न की हत्या कर उसकी लाश नहर में फेंक दी गई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
यह है पूरा मामला
मृतक प्रद्युम्न के भाई का आरोप है कि बीते 6 जनवरी की शाम प्रद्युम्न मोबाइल पर बात करते हुए घर से निकला था। तब से वह वापस लौट कर नहीं आया। काफी खोजबीन के बाद घटना के दूसरे दिन सरपतहां थाने पर तहरीर दी गई थी लेकिन पुलिस ने कार्रवाई नहीं जिसके के कारण मेरे भाई की हत्या कर शव को नहर में फेंका गया है। गुरुवार की शाम पुलिस के द्वारा सूचित किया गया कि नहर में एक युवक का शव बहता हुआ पाया गया है। आप आकर उसकी पहचान करें। उसके होलिए और कपड़ों से उसकी पहचान कर ली गई। परिजनों का आरोप है कि प्रद्युम्न को किसी ने धोखे से बुलाकर उसकी हत्या कर शव नहर में फेंक दिया है। 
इस मामले में था आरोपी
ज्ञातव्य हो कि लगभग 2 माह पूर्व बनुआडीह बाजार स्थित देशी शराब की दुकान में बाइक सवार दो युवकों के द्वारा सेल्समैन को गोली मार 13 हजार रुपये की लूट के मामले में पुलिस ने प्रद्युम्न को आरोपित बनाया था। उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। वह जमानत कराके महीने भर पूर्व घर आया था। उसका अचानक गायब होना और फिर उसकी लाश नहर में पाया जाना यह गुत्थी पुलिस के लिए सिरदर्द बना हुआ है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button