Connect with us

LOCAL NEWS

निकाय चुनाव में बुर्का हटाकर पहचान हुई सुनिश्चित, महिलाओं ने किया विरोध

Published

on

उत्तर प्रदेश में हो रहे निकाय चुनाव के तीसरे और आखिरी चरण में आखिरकार पर्दानशीं महिलाओं की पहचान सुनिश्चित होने लगी है. मुगलसराय, चंदौली, बागपत और सहारनपुर में कई बूथों पर बुर्के में वोट डालने आई महिलाओं की पहचान उनके वोटर आई कार्ड और चेहरे से मिलान करके किया गया और उसके बाद ही उन्हें वोटिंग की इजाजत दी गई.

सबसे पहले इसकी मांग उत्तर प्रदेश बीजेपी ने की थी और बाकायदा राज्य चुनाव आयोग को एक ज्ञापन देकर यह मांग किया था कि पर्दे, बुर्के या घूंघट में आई महिलाओं के चेहरों का मिलान उनके वोटर आईडी कार्ड से किया जाए और इसके लिए महिला सुरक्षा की खास व्यवस्था की जाए. हालांकि चुनाव आयोग ने इस बाबत कोई आधिकारिक आदेश जारी नहीं किया था लेकिन कई जिलों में प्रशासन ने इसे जरूर लागू कर दिया है.

मुगलसराय, चंदौली, बागपत और सहारनपुर में आज कई बूथों पर यह देखने को मिला कि महिला सुरक्षाकर्मी बुर्के में आई महिलाओं की पहचान उनके आई कार्ड से कर रही हैं और साथ-साथ बुर्का हटाकर चेहरे से आई कार्ड का मिलान भी कर रही हैं.

नगर निकाय चुनाव के अंतिम चरण में 26 जिलों में नगर निगम नगर पालिका और नगर पंचायतों के लिए मतदान हो रहा है.

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!