Connect with us

Economics

बुलेट ट्रेन की नींव पड़ी, शेयरों को होगा फायदा

Published

on

पीएम मोदी और जापान के पीएम शिंजे आबे ने आज अहमदाबाद-मुंबई बुलेट ट्रेन की नींव रख दी। इस अवसर पर शिंजे आबे ने बुलेट ट्रेन को भारत और जापान की दोस्ती की मिसाल बताया। देश के इस पहले बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट के 15 अगस्त 2022 तक पूरा होने की उम्मीद है। इस प्रोजेक्ट पर 1.20 लाख करोड़ रुपये की लागत आने की उम्मीद है। प्रस्ताबित बुलेट ट्रेन की अधिकतम गति 320 रुपये प्रति किमी होगी जो अहमदाबाद-मुंबई की दूरी 3 घंटे में पूरी करेगी। 10 कोच और 750 यात्री क्षमता वाली इस ट्रेन का संभावित किराया 2700-3000 रुपये के बीच रह सकता है। बुलेट ट्रेन साबरमती से खुल कर अहमदाबाद, वडोदरा, भरूच, सूरत, बिलिमोरा, वापी, विरार, ठाणे होते हुए बांद्रा पहुंचेगी।

इस बड़े प्रोजेक्ट से किन किन कंपनियों को फायदा होगा इस पर बात करें तो कॉरिडोर/ ट्रैक बिछाने का काम/ सुरंग बनाने वाली कंपनियों जैसे एलएंडटी, एचसीसी, एनसीसी को इससे फायदा होगा। बुलेट/हाई स्पीड टेक्नोलॉजी मे काम करने की क्षमता के कारण सीमेंस इंडिया, अल्सटॉम इंडिया और बीईएमएल को भी इस प्रोजेक्ट से फायदा होगा।

बुलेट ट्रेन की सिग्नलिंग के काम से सीमेंस इंडिया, अल्सटॉम इंडिया, एबीबी और क्रॉम्पटन ग्रीव्स को फायदा होगा। जबकि, इस प्रोजेक्ट के लाइडिंग के काम से बजाज इलेक्ट्रिक्स, हैवेल्स इंडिया और क्रॉम्पटन ग्रीव्स कन्ज्यूमर को फायदा होगा। इस प्रोजेक्ट के वॉटर ट्रीटमेंट जरूरतों से वा टेक वाबैग, थर्मेक्स, इओन एक्सचेंज को फायदा होगा। जबकि वाई-फाई/सुरक्षा संबंधी कामों से डीलिंक, जाइकॉम को फायदा होगा।

प्रोजेक्ट के ऑटोमेशन संबंधित कामों से एमआईसी इलेक्ट्रॉनिक्स और बारट्रोनिक्स को फायदा होगा। जबकि प्रोजेक्ट के टिकटिंग सिस्टम से जुड़े कामों से एचसीएल इंफो सिस्टम्स और टीसीएस (सीएमसी सि.) को फायदा हो सकता है।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!