Connect with us

Politics

प्रवासियों की दुर्दशा के लिए भाजपा से ज्यादा कांग्रेस जिम्मेदार – मायावती

Published

on

 

लखनऊ : बहुजन समाज पार्टी (BSP) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने लगातार तीसरे दिन कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला है। उन्होंने प्रवासी श्रमिकों की दुर्दशा के लिए फिर से कांग्रेस को जिम्मेदार बताया है। मायवती ने लॉकडाउन में उत्तर प्रदेश में प्रवासी मजदूरों को लेकर हो रही राजनीति पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) को घेरा है। बसपा प्रमुख ने कहा कि देश में प्रवासी श्रमिकों की जो दुर्दशा के लिए जितनी जिम्मेदार भाजपा है उससे कहीं ज्यादा कांग्रेस है।

बीएसपी चीफ मायावती ने रविवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि आजादी के बाद से कांग्रेस लंबे समय तक सत्ता में रही और कई राज्यों में शासन किया। कांग्रेस के शासनकाल में दलितों, किसानों और आदिवासियों सहित समाज के कमजोर वर्गों का गांवों से बड़े शहरों में बड़े पैमाने पर पलायन हुआ। गांवों में उनका आजीविका के साधन खरीदना मुश्किल हो गया था।

बसपा प्रमुख मायावती ने प्रवासी श्रमिकों की वर्तमान स्थिति के लिए समान रूप से भाजपा और कांग्रेस दोनों जिम्मेदारी हैं। बेहतर होता यदि लॉकडाउन की घोषणा करने से पहले ही प्रवासी श्रमिकों को उनके मूल स्थानों पर कुछ समय और सुविधा दी जाती। जिससे उनकी यह हालत नहीं होती।

बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि लॉकडाउन के कारण बेरोजगार और बेआसरा हो गए करोड़ों प्रवासी श्रमिक परिवारों की दुखद एवं शर्मनाक दुर्दशा हर जगह देखने को मिल रही है। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद केंद्र और राज्यों में लंबे समय तक शासन करने वाली कांग्रेस ने अगर गांव व शहरों में लोगों की रोजी-रोटी की सही व्यवस्था की होती तो इन्हें दूसरे राज्यों में पलायन करने को मजबूर नहीं होना पड़ता।

मायावती ने कहा कि वीडियो दिखाने के बजाय कांग्रेस यह बताती कि उसने उन पीड़ितों से मिलते समय कितने लोगों की असल में मदद की तो बेहतर होता। ऐसे विकट समय में भाजपा की केंद्र व राज्य सरकारों से भी यह कहना है कि वे कांग्रेस पार्टी के पदचिह्नों पर न चलकर घर वापसी कर रहे मजदूरों के लिए उनके गांव और शहरों में ही रोजी-रोटी की व्यवस्था करें।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!
E-Paper