Connect with us

Auraiya

बूढ़ी माँ मांग रही अपना हक , कानून से कर रही गुजारिश

Published

on

 

बेला (औरैया) । जो माँ अपने बच्चे को नौ महीने पेट मे रखकर ख्याल रखती है और खुद गीले में सोकर बच्चे को सूखे में सुलाती है लेकिन कष्ट तब होता है जब लड़का बड़ा होकर भूल जाता है कि ये वही जननी है मामला बेला थाना का है जहां एक 85 वर्षीय रामश्री तोमर पत्नी बचान सिंह तोमर निवासी बेला रो कर अपनी आप बीती बताती हैं कहती है कि मेरे पति ने कई साल पहले अपने खेत 13 लाख रुपये में बेंचे थे इनके दो लड़के है राजेश सिंह और राकेश सिंह जब राकेश सिंह की शादी हुई तो बतौर रामश्री मुझे और मेरे पति को मेरे छोटे लड़के राकेश तोमर ने घर से निकाल दिया उसके कुछ दिन बाद राकेश ने अपने पिता को अपने घर बुला लिया पर माँ को नही माँ का कहना है कि पैसे की वजह से राकेश ने अपने पिता को घर बुलाया पर मेरे पास कुछ नही मुझे कोई तकलीफ नही पर जो मेरा हक है वह मुझे दिया जाए । जो खेती 13 लाख में बिकी थी पत्नी होने के नाते मेरा आधा हक है जो मुझे मिलना चाहिए । मेरे पति बचान सिंह मुझे मेरे हक से मुझे बंचित रख रहे है ।मैंने इसके संबंध में एक शिकायती प्रार्थना पत्र बेला थाने में दिया पर कोई कार्यवाही नही हुई इसके बाद मैंने क्षेत्राधिकारी बिधूना को भी प्रार्थना पत्र दिया पर अभी तक कोई कार्यवाही नही हुई अब मैं कहाँ जाऊं क्या पति के हिस्से पर मेरा हक नही । कानून से मुझे न्याय चाहिए ।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!
E-Paper