Connect with us

shamli

विकास कार्यक्रमों में शिथिलता बर्दाश्त नहीं-डीएम

Published

on

लक्ष्य के सापेक्ष अपेक्षित प्रगति न होने पर अधिकारियों को कठोर चेतावनी

शामली (नबी चौधरी)।जिलाधिकारी जसजीत कौर ने कलेक्ट्रेट सभागार में विकास कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए कहा कि विकास कार्यो में शिथिलता किसी भी स्तर पर बर्दाश्त नहीं की जायेगी।उन्होंने अधिकारियों से कड़ा रूख स्पष्ट करते हुए कहा कि बैठक में तर्क प्रस्तुत न कर,संबंधित कार्याे की प्रगति बतायें।उन्होंने स्पष्ट कहा कि सभी अधिकारी कार्य करने की आदत डालें और विकास कार्यों में तेजी लाते हुए कार्यों को समय से पूर्ण करना सुनिश्चित करें।समीक्षा बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने विकास कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए सर्वप्रथम अधिशासी अभियंता लघु सिंचाई से नेहरों की साफ-सफाई चेक डैम आदि के संबंध में जानकारी प्राप्त करते हुए अन्य होने वाले कार्यों के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए।बैठक में उनके द्वारा विद्युत विभाग के कार्यों की समीक्षा की गई जिसमें विद्युत विभाग के अधिकारी द्वारा जिलाधिकारी को संबंधित विभागों पर विद्युत बकाया के संबंध में अवगत कराया गया।जिसमें जिलाधिकारी ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जिनके पास विद्युत बकाया है वह बकाया भुगतान करना सुनिश्चित करें।इसके अलावा विद्युत को लेकर अन्य बिंदुओं पर भी चर्चा की गई।समीक्षा बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने लोक निर्माण विभाग से नई सड़कों के संबंध में जानकारी प्राप्त की गई जिसमें संबंधी द्वारा बताया गया कि नई सड़कों के लिए प्रस्ताव भेजा गया है।समीक्षा के कर्म में जिलाधिकारी ने कृषि विभाग के कार्यक्रमों की जानकारी प्राप्त करते हुए कृषि विभाग की समस्त योजनाओं में प्रभावी कार्रवाई सुनिश्चित करते हुए अधिक से अधिक लाभ दिया जाने हेतु संबंधित को निर्देशित किया गया।समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने पशु चिकित्सा अधिकारी से गौशालाओं में संरक्षित गोवंशो के, स्वास्थ्य,टीकाकरण एवं जन सहभागिता के तहत दिए गए पशुओं के संबंध में जानकारी प्राप्त करते हुए यह निर्देश दिए कि गौ आश्रय स्थलों के पास पशुचर की भूमि पर हरा चारा उगाया जाए।उन्होंने स्पष्ट निर्देशित करते हुए कहा कि इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।समीक्षा के क्रम में जिलाधिकारी में स्वास्थ्य विभाग के कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए एसीएमओ को निर्देशित किया कि जहां पर अभी गोल्डन कार्ड नहीं बने हैं वहां पर अभियान चलाकर गोल्डन कार्ड बनाए जाए इसके अलावा उन्होंने स्वास्थ्य विभाग में दवाइयों की उपलब्धता एंबुलेंस एवं अन्य जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देशित किया कि जितने भी लाभार्थीपरक योजना है उनमें पात्र को अधिक से अधिक अच्छादित किया जाए।साथ ही उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि जितने भी आंगनवाड़ी सेंटर है उन पर बेबी वजन मशीन रखी जाए ताकि कार्य सुचारू रूप से चलता रहे।समीक्षा बैठक में बेसिक शिक्षा विभाग के कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया कि नवाचार के तहत ग्रामों के अंदर मुख्य मुख्य स्थानों पर दीवारों पर वर्णमाला आदि का वॉल पेंटिंग कराया जाए ताकि बच्चों शिक्षा मिल सके इस कार्य में डीपीआरओ का सहयोग प्राप्त करें।इसके अलावा जिलाधिकारी ने समस्त स्कूलों में स्वच्छ पेयजल एवं जहां पर कोई समस्या है उसे दुरुस्त करने के यह निर्देश दिए गए।इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने ग्रामों के अंदर जहां भी हैंडपंपों द्वारा दूषित जल की समस्या है उन हैंडपंपों पर रेड मार्किंग किये जाने हेतु संबंधित को निर्देशित किया गया।बैठक में बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग द्वारा चलाये जा रहे पोषण मिशन कार्यक्रमों की भी समीक्षा की गई। इसके अलावा जिलाधिकारी ने मनरेगा के तहत मानव दिवस सृजित किए जाने के संबंध में जानकारी प्राप्त करते हुए यह पाया गया कि जिन विभागों को जितना लक्ष्य दिया गया था उसके सापेक्ष उनके द्वारा मानव दिवस सृजित नहीं किए गए हैं के चलते जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी व्यक्त कर कठोर निर्देश देते हुए कहा कि लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति में बढ़ोतरी हो अन्यथा कार्यवाही के लिए तैयार रहें।इसके अलावा जिलाधिकारी ने समाज कल्याण विभाग की समीक्षा करते हुए समाज कल्याण अधिकारी को निर्देशित किया गया कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत कभी भी लक्ष्य प्राप्त हो सकता है इसलिए पात्रों का चयन करके रखें इसके अलावा उन्होंने पेंशन के संबंध में जानकारी प्राप्त की जिसमें समाज कल्याण अधिकारी द्वारा बताया गया कि पेंशन समय से लाभार्थी को मिल रही है और पेंशन कैंपौ के माध्यम से विभिन्न पेंशनों में नए आवेदन प्राप्त किए जिन पर त्वरित कार्रवाई की जा रही है।इसके अलावा समीक्षा बैठक में अन्य शेष विभागों के कार्यक्रमों की जानकारी प्राप्त करते हुए जिलधिकारी ने संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहां की लक्ष्य के सापेक्ष कार्यों को गति देते हुए समय से पूर्ण करना सुनिश्चित करें ताकि जनपद की रैंकिंग अच्छी रहे।इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।इसके अलावा जिलाधिकारी ने बैठक में 50 लाख धनराशि की अधिक लागत से परियोजनाओं की समीक्षा करते हुए परियोजनाओं को समय से पूर्ण करने के निर्देश दिए।इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी शंभू नाथ तिवारी, जिला विकास अधिकारी प्रमोद कुमार,परियोजना निदेशक ज्ञानेश्वर तिवारी, कृषि उपनिदेशक शिव कुमार केसरी, एसीएमओ डॉ सफल कुमार सहित संबंधित विभाग के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!