Connect with us

Entertainment

Exclusive: समाज में ‘ट्रेंड सेटर’ बनेगी ‘पैड मैन’, आज आ रहा है ट्रेलर

Published

on

मुंबई। कुछ ऐसे विषय होते हैं, जिन पर लोग बात करने से भी कतराते हैं, फिल्म बनाना तो दूर की बात है। लेकिन, अक्षय कुमार उन सितारों में से हैं, जिन्होंने फिल्मों के जरिये सामाजिक मुद्दों को उठाने में कभी देर नहीं लगाई। उनकी अगली फिल्म ‘पैड मैन’ ऐसी ही एक फिल्म है, जो अपनी विषयवस्तु के चलते समाज में पथ प्रदर्शक का काम करेगी।

अक्षय कुमार की आर बाल्की निर्देशित ‘पैड मैन’ का ट्रेलर आज जारी किया जा रहा है और अब से कुछ देर बाद ये दुनिया के सामने होगा। जागरण डॉट कॉम ने एक्सक्लूसिवली इस ट्रेलर का प्रिव्यू किया है। फिल्म के ट्रेलर से ही एक बात साफ़ जान पड़ती है कि जिस तरह से सेनेटरी नैपकिन को लेकर, ऐसे विषय को बड़ी ही रोचकता से उठानेे की पहल की गई है वो एक जबरदस्त सराहनीय प्रयास है। ये फिल्म सेनेटरी नैपकिंस के क्षेत्र में क्रांतिकारी आविष्कार करने वाले उस अरुणाचलम मुरुगनाथम की ज़िंदगी से जुड़ी है, जिन्होंने हाइजनिक और सस्ते नैपकिन बनाने वाली मशीन बनाई, जिससे उनके बनाये गए पैड्स कमर्शि

साल 2014 में टाइम मैगजीन ने अरुणाचलम को दुनिया के 100 सबसे प्रभावशाली लोगों में शामिल किया। उनके इस काम को अक्षय कुमार की वाईफ ट्विंकल खन्ना ने अपनी किताब ‘द लीजेंड ऑफ लक्ष्मी प्रसाद’ में लिखा और बाद में ये कहानी इतनी प्रेरणादायक लगी कि आर बाल्की ने इस फिल्म के निर्देशन का फैसला किया।

इस फिल्म में अक्षय कुमार के साथ राधिका आप्टे और सोनम कपूर ने काम किया है जबकि फिल्म में आपको अमिताभ बच्चन भी स्पेशल रोल में दिखाई देंगे। फिल्म अगले साल 26 जनवरी को रिलीज़ होगी।

यल पैड्स के मुकाबले एक तिहाई कीमत पर बाज़ार में आये।

अक्षय कुमार ने इसी साल ‘टॉयलेट एक प्रेम कथा’ के जरिये खुले में शौच जाने की कुप्रथा के ख़िलाफ़ एक आवाज़ उठाई थी। सामाजिक सरोकारों के प्रति उनकी इस सोच की अगली कड़ी ही ‘पैड मैन’ है। इसे भारतीय सिनेमा की एक ऐसी फिल्म माना जा सकता है, जो महिलाओं की माहवारी से जुड़ी तमाम संकोची सोच और उनकी स्वच्छता से जुड़े मुद्दों पर खुल कर बोलने की दिशा में सराहनीय प्रयास है।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!