Connect with us

NATIONAL NEWS

बिहार में गरमाई राजनीति, नीतीश पर हेरफेर का आरोप लगा देर रात चुनाव आयोग पहुंचा महागठबंधन

Published

on

पटना।बिहार चुनाव के बाद मतगणना में राष्ट्रीय जन तांत्रिक गठबंधन (राजग) को बढ़त मिलते ही बिहार की राजनीति गर्म हो गई है। महागठबंधन के घटक दलों ने राजग पर मतगणना में गड़बड़ी का आरोप लगाया है। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल देर रात पटना में चुनाव आयोग के दफ्तर पहुंच गया है। राजद और कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के धांधली को लेकर ऊपर बड़ा आरोप लगाया है।

नीतीश के इशारे पर गिनती में हेरफेर का लगाया आरोप

चुनाव आयोग के पास शिकायत लेकर पहुंचे राजद और कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि नीतीश कुमार के इशारे पर कुछ अधिकारी मतों की गिनती में हेरफेर कर महागठबंधन के प्रत्याशियों को पीछे दिखा रहे हैं। राजद के राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोज झा ने कहा कि लोकतंत्र की हत्या करने का प्रयास है। राजद के प्रदेश प्रवक्ता चितरंजन गगन ने कहा कि मतगणना में मामूली अंतर से आगे चल रहे महागठबंधन के प्रत्याशियों को आखिरी वक्त पर पीछे दिखा दिया गया। ऐसे एक दर्जन से ज्यादा सीटें हैं, जिनपर रिटर्निंग अफसर पर दबाव डालकर जीते हुए प्रत्याशी को हरा दिया गया है। आयोग को इसपर संज्ञान लेना चाहिए।
कुछ चरणों की मतगणना शेषः चुनाव आयोग

वहीं उप चुनाव आयुक्त चंद्र भूषण कुमार ने कहा कि मतगणना कुछ चरणों में शेष है। जैसे-जैस चुनाव के नतीजे आते रहेंगे, आप तक जानकारी पहुंचती रहेगी। उन्होंने कहा कि आयोग का आदेश है कि अगर जरूरत पड़ेगी तो हम मध्य रात्रि के आसपास अंतिम अपडेट लेकर दोबारा आएंगे।

राजद चुनाव परिणाम आने के साथ ट्वीट किया था, इसमें पार्टी ने 119 प्रत्याशियों की सूची जारी की थी। कहा था कि इस सूची में गिनती संपूर्ण होने के बाद महागठबंधन के उम्मीदवार जीत चुके हैं। रिटर्निंग ऑफ़िसर ने उन्हें जीत की बधाई दी लेकिन अब सर्टिफ़िकेट नहीं दे रहे है। कह रहे हैं कि आप हार गए हैं। ECI की वेबसाइट पर भी इन्हें जीता हुआ दिखाया गया। जनतंत्र में ऐसी लूट नहीं चलेगी।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!