Connect with us

Deoria

क्रांतिकारी शहीद उधम सिंह की मनी जयन्ती

Published

on

निर्वाण टाइम्स

भाटपाररानी (देवरिया)। भाटपाररानी तहसील क्षेत्र के भवानी छापर में शनिवार को स्वतन्त्रता संग्राम के महान क्रांतिकारी शहीद उधम सिंह की जयंती मनाई गई। इस दौरान उनके क्रांतिकारी कार्यों पर प्रकाश डाला गया।
अवकाश प्राप्त शिक्षक ध्रुवदेव सिंह ने कहा कि शहीद उधम सिंह के हृदय में आजादी के लिए गहरा भाव था। उन्होंने देश के लिए अपने प्राणों की आहुति दे दी।अतः उन्हें भुलाया नहीं जा सकता। कवि व पत्रकार मक़सूद अहमद भोपतपुरी ने कहा कि 26 दिसम्बर 1899 को पंजाब में जन्में उधम सिंह ने लंदन जाकर जलियांवाला बाग हत्याकांड के लिए गोलियां चलाने का आदेश देने वाले अंग्रेज अधिकारी जनरल डायर को मौत के नींद सुला दिया था। इसके लिए उन्हें फांसी दे दी गई।ऐसे निडर क्रांतिकारी सदा अमर रहेंगे। समाजसेवी जटाशंकर सिंह ने कहा कि देश के लिए शहीद होने वाले सपूत मरकर भी जिंदा रहते हैं।प्रदीप सिंह ने कहा कि युवाओं को उधम सिंह के क्रांतिकारी विचारों से प्रेरणा लेनी चाहिए। यहां मुख्य रूप से बृजनाथ सिंह, हरेंद्र सिंह, व्यास सिंह, किशोर साहनी, रितेश सिंह, नथुनी साहनी, जितेंद्र सिंह, सन्तोष सिंह, शक्ति शर्मा, चन्दन साहनी, धनन्जय साहनी, जयशंकर सिंह राजपूत, अनुज सिंह, बाबू सिंह, मोहन साहनी, शिमल साहनी, शमशेर अली मौजूद रहे।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!