HardoiUttar Pradesh

कछौना का राजकीय हाईस्कूल भवन हैंडओवर न किये जाने से कागजों पर संचालित है कक्षाएं

कछौना, हरदोई ( अनुराग गुप्ता ) । एक तरफ सरकार सरकारी स्कूलों को भौतिक स्थिति सुधारने के लिए मिशन कायाकल्प के तहत प्रयासरत वहीं कछौना का राजकीय हाई स्कूल भवन अभी अधर में लटका पड़ा है। जिसके कारण तैनात अध्यापक मनमाने तरीके से कक्षा संचालित करते हैं जूनियर हाई स्कूल टिकारी के एक कक्ष में कक्षा 9 व 10 की कक्षाएं कागजों पर संचालित है उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा अभियान के तहत वर्ष 13 14 में नए भवन के लिए बजट स्वीकृत किया गया था। वह 2015 16 में इनका कार्यदाई संस्था ग्रामीण अभियंत्रण विभाग को जिम्मेदारी सौंपी गई लेकिन कई वर्ष बीत जाने के बाद भी भवन अभी तक हैंड ओवर नहीं किया गया जिसका खामियाजा नौनिहालों को उठाना पड़ रहा है। कहीं शौचालय की कमी रही कहीं बिजली कनेक्शन कहीं पीने के लिए पानी की व्यवस्था के अभाव में यह भवन शोपीस बन कर रह गया हैं। जिससे ग्रामीण क्षेत्र के गरीब बच्चे का उच्च शिक्षा का सपना अनदेखी की भेंट चढ़ गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button