Jaunpur

जौनपुर : मुंगरा के क्वॉरेंटीन सेंटर पर मजदूर की मौत आखिर जिम्मेदार कौन….

घटना की जानकारी लेने पहुंचे डीएम व एसपी

संवाददाता : सूरज विश्वकर्मा

मुंगराबादशाहपुर/जौनपुर :- कोरोना वायरस के चलते जहां पूरे देश में दहशत का माहौल कायम है वही लॉकडाउन के चलते एक मजदूर मुंबई से चलकर बीते गुरुवार दोपहर में मुंगरा बादशाहपुर स्थित सार्वजनिक इंटर कॉलेज में क्वॉरेंटीन सेंटर पर मजदूर की मौत का मामला प्रकाश में आया है। मिली जानकारी के अनुसार मृतक मजदूर प्रदीप कुमार पुत्र पूर्णमासी राम उम्र 34 वर्ष ग्राम नाथूपुर थाना जफराबाद थाना जाफराबाद जिला जौनपुर का निवासी जो 5 माह पहले मुंबई खाने- कमाने के लिए घर से मुंबई गया था। मृतक एक कपड़े की फैक्ट्री में काम करता था, लॉकडाउन के चलते फैक्ट्री बंद हो जाने के नाते फैक्ट्री मालिक फैक्ट्री ने निकाल दिया था, जिसके कारण उनको अपने गांव वापस लौटने के लिए मजबूर होना पड़ा। बीते 1 हफ्ते पहले उसे बुखार होने के कारण उसे ट्रेन यात्रा करने के लिए रोक दिया गया था। किंतु बीते 3 दिन पहले ज़िद करके यदा-कदा लोकमान्य ट्रेन के द्वारा वह बीते गुरुवार को लगभग 11:00 बजे प्रयागराज पहुंचा वह से सरकारी बस द्वारा मुंगरा बादशाहपुर में सार्वजनिक इंटर कॉलेज में बने क्वॉरेंटाइन सेंटर पर उसे रखा गया। लेकिन अभी चौबीस घंटे भी उसे आए हुए नहीं था कि शुक्रवार की सुबह लगभग 8:00 बजे उसकी मौत हो गई। मौत की सूचना पाते ही सारे अधिकारियों में हड़कंप मच गया और वहां पर पहुंची स्वास्थ टीम ने पीपीआई किट के माध्यम से मौत के कारण की जांच करना शुरू कर दिया डॉक्टर आरपी सिंह ने बताया कि मृतक मजदूरी के पहले से ही तबीयत खराब चल रही थी सैंपल जांच के लिए जिला अस्पताल भेजा जाएगा और शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा। मृतक व्यक्ति की सूचना पाते ही उसके परिजन को क्वारंटीन सेंटर पर पहुंचे मृतक के परिजन के अनुसार 3 साल पहले मृतक की शादी हुई थी जिससे एक छोटा बच्चा भी है। इसके पिता की भी मौत 7 साल पहले हो चुकी है । घर में कमाने के लिए सिर्फ व्यक्ति था जो आज वह भी चला गया। घटना की सूचना सुनते ही जिले में हड़कंप मच गया सूचना पर पहुंचे जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह व पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार ने घटना की मृतक के परिजन से जानकारी लेते हुए एसडीएम मछली शहर अमिताभ यादव हिदायत देते हुए को कहा कि लेखपालों की ड्यूटी हटाकर वीडियो अस्तर की 8 घंटे की ड्यूटी लगाई जाए। फिलहाल रिपोर्ट आने पर पता चलेगा कि प्रदीप की मौत कैसे हुई। उक्त समय पर सीओ मछली साहब अवधेश शुक्ला, अधिशासी अधिकारी मीनाक्षी चतुर्वेदी , चेयरमैन शिव गोविंद साहू, डॉ राम विजय सिंह , उपनिरीक्षक मनोज सिंह व एसआई मिथिलेश कुमारी सहित पुलिस बल मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button