Jaunpur

जौनपुर : ये है कर्मवीर, संकट की इस घड़ी में कोरोना फाइटर की भूमिका में नजर आए पुलिसकर्मी

️देवेश मिश्र (सत्यम)
सिंगरामऊ/जौनपुर। लॉकडाउन में पुलिसकर्मी दिन-रात ड्यूटी कर रहे हैं। एक तरफ शहर के लोग घरों में सुरक्षित हैं तो पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमण के खतरे के बीच जगह-जगह पहरा दे रहे हैं। कोई स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ मरीजों का सैंपल लेने जा रहा है तो कोई संक्रमण वाले इलाके में नाकाबंदी पर मुस्तैद है। इन हालात में ये पुलिसकर्मी परिवार को भी समय नहीं दे पा रहे। कोरोना के खिलाफ चल रही जंग के बीच ऐसे ही कुछ पुलिसकर्मियों का हाल-ए-बयां…

फाइल फोटो : (कोरोना फाइटर्स पर पुष्प वर्षा करते लोग)

कोरोना फाइटर्स थानाध्यक्ष विनीत मोहन पाठक सहित पुलिसकर्मियों, चिकित्साधिकारी डा. अभिषेक वर्मा, सहित तमाम पुलिस कर्मियों पर क्षेत्रीय लोगो ने पुष्प वर्षा कर उनका धन्यवाद देते हुए प्रोत्साहित किया।

क्या कहते है कोरोना फाइटर्स

1.दिल कहता है पहले देश की सेवा

मऊ निवासी अर्जुन यादव सिंगरामऊ थाने में सिपाही हैं। वह बताते हैं यह आपदा की घड़ी है ऐसे में हमारी जिम्मेदारी है कि हम शासन के निर्देश का अनुपालन कराए। शाम को कुछ देर का वक्त निकालकर घर वालो से बात करता हूं। दिनभर कहीं न कहीं चेकिंग के लिए जाना पड़ता है। मेरा दिल कहता है कि पहले देश की सेवा करो।

2.वायरस का संक्रमण रोकना जिम्मेदारी

सिंगरामऊ थानाध्यक्ष विनीत मोहन पाठक का कहना है कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए जहां प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग अपनी जिम्मेदारी निभा रहा है, वहीं हम पुलिस प्रशासन भी प्रशासनिक टीम के साथ मिलकर इस लड़ाई को जीतने के लिए अपना जी-जान लगा रहे हैं।कोरोना संक्रमण रोकना जिम्मेदारी है।लोग सोशल डिस्टेंस इन बनाए रखें ताकि कोरोना पर नियंत्रण पाया जा सके।हम बाहर है आप घर पर रहकर सहयोग करें।

3.कोरोना खत्म हो तो मेहनत सफल।

उपनिरीक्षक धर्मेंद्र सिंह का कहना है कि इस जानलेवा महामारी का कोई इलाज नही सिर्फ सावधानी से ही हम इससे बच सकते है। हम लोगो से अपील कर रहे अनावश्यक घर से बाहर न निकले।बैंक पर भीड़ न लगाएं।अगर बाहर जाना आवश्यक हो तो मास्क या गमझे का प्रयोग अवश्य करें।कोरोना वायरस कर खत्म होने पर ही हमारी मेहनत सफल होगी हम लगातार प्रयास कर रहे कि लोग अनावश्यक बाहर न निकले।

4.मिली है बड़ी जिम्मेदारी।

मूलरूप से अम्बेडकर नगर के रहने वाले उप निरीक्षक अजय पाण्डेय का कहना है कि आपदा की इस घड़ी में हमे बड़ी जिम्मेदारी मिली है इस जिम्मेदारी को सफलतापूर्वक पूरा करना हमारी जिम्मेदारी है। परिवार जनों को हमारी चिंता रहती है हम फोन पर परिवार से रोजाना बात करते रहते हैं।लेकिन जो जिम्मेदारी हमे मिली है वह बहुत बड़ी है कोरोना को रोकना हमारी पहली जिम्मेदारी है। इसके लिए हम लगातार प्रयास कर रहे हैं।

(फाइल फोटो : जौनपुर प्रतापगढ़ सीमा पर तैनात पुलिसकर्मी)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button