Gorakhpur

डांडिया गरबा पर झुमने को फिर तैयार गोरखपुर

इस साल भी माता के जयकारों व गरबा से झूमेंगे भक्तगण-अर्पिता उपाध्याय

गोरखपुर(विनय कुमार त्रिपाठी)। जी हां पुनः गरबा डांडिया के धून में झुमने को तैयार हुआ गोरखपुर फिर माता के जयकारों व संगीत से रौशन होगा मंडप जहां थिरकने को मजबूर होते पांव वह युवा हो या बृद्ध वही खुद को माता के जयकारों व गीत संगीत के बीच झुमने से नही रोक पाते आये हुए भक्त व श्रद्धालु। अर्पिता उपाध्याय यह नाम याद आते ही सामने आता वह छवि जिसने अपनी मेहनत,लगन और यही नही बाहर भी अर्पिता उपाध्याय ने अपनी प्रतिभा के मनवाए लोहे।

पर सभी बड़े शहरों को छोड़कर अपने शहर गोरखपुर, गुरु गोरक्षनाथ की पावन धरती से शुरू किया उन्होंने अपना आगाज। और कहते है न कि जिसने “अर्श से फर्श” तक का सफर तय किया हो सफलता कभी उसके सर चढ़कर नही बोलती वह हमेशा सौम्य,शालीन और व्यवहारकुशल ही बना रहता क्युकी उस जगह पर पहुंचने पर उसे उस शून्य का भी महत्व पता रहता जिसकी छवि अर्पिता उपाध्याय में साफ दिखती।
निर्वाण टाइम्स से बात करते हुए अर्पिता उपाध्याय जी ने बताया कि हर सत्र की भाँति गोरखपुर शहर इस बार भी नवरात्रि के पावन पर्व पर स्वर एकेडमी ऑफ आर्ट कल्चर एंड स्पोर्ट्स और क्लब के तत्वाधान द्वारा बहुत भव्य वर्कशॉप कराया जा रहा है। जिसमें गुजरात से आए कोकिलाबेन शाह और जय नागर द्वारा महिलाओं और बच्चों को गरबा और डांडिया के स्टेप सिखाए जा रहे हैं। स्वर की संचालिका निर्देशक अर्पिता उपाध्याय जी का कहना है नवरात्रि एक ऐसा पर्व है जिसे हम सब धूमधाम बहुत ही हर्ष उल्लास से मनाते हैं और मां की आराधना करते हैं इस बार यह प्रोग्राम गोरखपुर क्लब में 1 अक्टूबर को गरबा डांडिया उत्सव मनाया जाएगा लोगों में नृत्य को सीखने की ललक को देखते हुए 1 दिन का वर्कशॉप भी रखा गया है। जिसमें लोग आरती और डांडिया के नए तरीके सीख सकेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button