Uttar Pradesh

दे दारु दे दारु ओ मेरे भैया दे दारू बड़े दिनों के बाद मिली है यह दारू

 

आखिर पुलिस कब तक भाजेगी लाठी
ब्लॉक न्यूज सम्वाददाता संतोष तिवारी

गोरखपुर/खजनी ब्लॉक न्यूज संवाददाता

अगर यही हाल रहा तो कैसे लड़ेंगे कोरोना के वीर योद्धा

मंदिर मस्जिद गुरुद्वारा में लगे हैं ताले खुल गई मधुशाला की दुकान कितना बदल गया ईन्सान दारु पीने वाले न बदले, न बदली सोच खुल गई दारु की दुकान अर्थव्यवस्था पटरी पर लाने के लिए खुल गए मधुशाला की दुकान भगवान कितना बदल गया यह इंसान।
आखिर पुलिस कब तक लाठी भाजती रहेगी जहां जरूरत कि दुकान खुलना चाहिए जैसे राशन ,सब्जी,फल जेसे अन्य जरूरी समाने कि दुकान बन्द हैं, वहीं शराब के लिए छुट दि गई है एसे मे कैसे होगा लांकडाउन का पालन।
जहां शासन द्वारा आदेशों को लेकर व्यापारियों में भ्रम पैदा हो रही है कि कौन सी दुकानें खुलेगी और कौन सी बंद रहेंगी रोज-रोज नया शाशना आदेश देकर परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
व्यापारियों का कहना है राशन सब्जी फल की दुकानें सबकी जरूरत का सामान है लेकिन शासन का आदेश है दुकानें बंद रहेंगी और होम डिलीवरी होगा जिससे कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है लेकिन वही देखा जाए तो शराब जैसी चीजों के लिए सरकार ने छूट दे दी जिसके चलते प्रशासन के लोग नए-नए तरीके अपना रहे हैं कि क्षेत्र में कोरोना की महामारी ना फैले जिसके लिए पुलिस अपने दल बल के साथ कभी फ्लैग मार्च करती है तो कभी मोटरसाइकिल से रैली निकालती है बैरियर लगाकर रखवारी करती है लेकिन देखा जाए तो सब पर पानी फेर रहा है शराब के बिक्री पर छूट देकर जिसके चलते 2 से 3 किलोमीटर की लाइन लग रही है और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई जा रही है ऐसे में प्रशासन प्रशासन द्वारा चलाए जा रहे संक्रमण रोकने के अभियान पर पानी फिरता दिखाई दे रहा है शराब के लिए कोरोना जैसे महामारी का डर भी नहीं रह गया जरूरी की दुकानें बंद और शराब की दुकान।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button