Rampur

पेट्रोल एवं डीज़ल के दामों में की गई वृद्धि वापस ले सरकार, सौंपा ज्ञापन

 

टाण्डा (रामपुर) । पेट्रोल एवं डीजल के दामों में लगातार हो रही वृद्धि को लेकर लोगों में हाहाकार मचा हुआ है।कांग्रेसियों ने राष्ट्रपति के नाम का ज्ञापन भेजकर दाम कम करने की मांग उठाई है।आसमान छूते दामो को कम करने की मांग की गई ।
पेट्रोल एवं डीज़ल के दामों को लेकर कांग्रेसी नेता हाजी सरफराज़ आलम ने एक पत्र ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/एसडीएम गौरव कुमार के माध्यम से राष्ट्रपति को भेजा।साथ ही सम्बोधित कर कहा कि पेट्रोल डीजल के मूल्यों में अभूत पूर्व बढ़ोत्तरी की गई है मोदी सरकार द्रारा पेट्रोल डीजल पर शुल्क कीमतों में बार बार की गई बढ़ोत्तरी ने भारत के नागरिकों के लिए अनेकों प्रकार की परेशानियाँ उत्पन्न कर दी है।लॉकडाउन के चलते जहाँ एक तरफ देश स्वास्थ्य व आर्थिक समस्या से जूझ रहा है वहीं केन्द्रीय सरकार पेट्रोल व डीजल पर लगने वाले उत्पाद शुल्क को बढ़ाकर कठिन समय के चलते मुनाफा खोरी कर रही है । वर्ष 2014 में भाजपा शासन में पेट्रोल पर उत्पाद 9.20 रूपये प्रति लीटर एवं डीजल पर 3.46 रुपये प्रति लीटर था । केन्द्रीय मौजूदा सरकार के पेट्रोल एवं डीजल के दामो पर कई गुना मुनाफा खोरी एवं जबरन वसूली की सभी हदें पार कर दी गई है । सरकार द्वारा देश के नागरिकों का इससे ज्यादा शोषण और क्या हो सकता है 24 जून 2020 को कच्चे तेल का अन्तर्राष्ट्रीय भाव 43.41 अमेरिकी डालर प्रति बैरल था मोदी सरकार के चलते भाजपा सरकार ने पेट्रोल डीजल के दाम आसमान पर पहुंचा दिये हैं जिससे पूरे भारत की जनता को भारी मार झेलना पड़ रही है। मांग की गई कि पेट्रोल डीजल के दाम एवं उत्पाद शुल्क में की गई सभी बढ़ोत्तरी को तत्काल वापस लिया जाए।ज्ञापन देने वालो में हाजी सरफ़राज़ आलम,नवाब तय्यब,मो० इस्लाम,मआज खान,नदीम अख्तर,हाजी सगीर,हाजी लियाकत आदि मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button