Uncategorised

मुंबई,अपना काम करते हुए करिए प्रभु का ध्यान -अतुलकृष्ण

अपना काम करते हुए करिए प्रभु का ध्यान -अतुलकृष्ण

रिपोर्ट-एसपी पाण्डेय

मुंबई: श्रीराम सत्संग समिति द्वारा दहिसर पूर्व में आयोजित,रामकथा के दूसरे दिन आचार्य अतुलकृष्ण महराज ने याज्ञवल्क ऋषि,भारद्वाज ऋषि व अगस्त ऋषि की महिमा का बहुत ही मार्मिक वर्णन किया।राम नाम के महत्व को बताते हुए महराज जी ने बताया कि आप अपने दैनिक कार्यों को करते हुए भी मन मे श्रीराम का जाप करते रहो।प्रभु श्रीराम के नाम के जप से ही सारे कष्ट नष्ट हो जाते हैं।प्रभु श्रीराम के जप से ही संत समर्थ गुरु रामदास,संतज्ञानेश्वर,संत नामदेव,संत तुकाराम ने अनेक सिद्धियां प्राप्त किया।कलयुग में राम का नाम ही उद्धार का सर्वोत्तम साधन है।मधुर संगीतमय कथा से श्रोता भावविभोर हो गए।मुख्य अतिथि के रूप में श्री मनमोहन गुप्ता,आर यू सिंह,श्रीराम तिवारी(अयोध्यावासी),कार्यकारिणी के सभी सदस्य उपस्थित रहे।कथा प्रतिदिन शाम 4 बजे से 7बजे,22 जनवरी तक चलेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button