shamli

सरकार के आदेशों की खुली अवेलना,गरीबों के मुँह से छीना निवाला

【ब्यूरो रिपोर्ट विनित शर्मा शामली】

शामली/थानाभवन। देश में सरकार के फ्री राशन वितरण करने के आदेश को ठेंगा दिखाते हुए दबंग राशन डीलर ने ग्रामीणों के हक के राशन पर कालाबाजारी कर राशन देने से इनकार किया। शिकायतों के बावजूद भी कार्रवाई न होने से नाराज ग्रामीण। जिला पूर्ति अधिकारी कालाबाजारी रोकने में नाकाम।

देश में कोरोना के बढ़ते प्रकोप के चलते देश की सरकार देश के प्रत्येक आदमी तक खाद्य रसद सामग्री पहुंचाने का दावा कर रही है और अलग-अलग योजनाओं के तहत लोगों को खाद रसद सामग्री पहुंचा रही है, लेकिन सरकार के सरकारी आदेशों की हकीकत ऐसे मामलों से बयां हो जाती है। जब जनपद शामली के थानाभवन क्षेत्र के गांव अंबेटा याकूबपुर निवासी एक राशन डीलर ने ग्रामीणों को राशन वितरण करने से ही इंकार कर दिया। जब ग्रामीणों ने राशन डीलर से राशन वितरण करने का कारण पूछा तो ग्रामीणों का आरोप है कि उसने अगले दिन राशन लेने आने का बहाना बनाया और राशन देने से साफ इनकार कर दिया। कुछ लोगों ने आरोप लगाया कि राशन डीलर ने उनसे 1 दिन पहले ही ई पाश मशीन पर उनके अंगूठे के निशान लगवा लिये थे, लेकिन उसके बावजूद भी अब उन्हें राशन नहीं दे रहा है। जबकि सरकार उन्हें राशन वितरण करने का आदेश दे रही है। ग्रामीणों का आरोप है कि उन्होंने कई जगहों पर फोन द्वारा अधिकारियों को सूचना दी है कि राशन डीलर राशन कालाबाजारी कर रहा है लेकिन आरोप है कि शिकायत के बावजूद भी आरोपी राशन डीलर अपनी हठधर्मिता पर अड़ा हुआ है और राशन देने से साफ इनकार कर रहा है। अब ऐसे दबंग राशन डीलर जब गरीब जनता के हक का माल कालाबाजारी के चाबुक से दिन-रात लूटने का काम कर रहे हैं। तो आखिर इन पर लगाम लगाने में जिला प्रशासन नाकाम क्यों है। ऐसा रवैया जिला प्रशासन की कार्यशैली पर सवाल खड़ा करता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button