HardoiUttar Pradesh

125 पशु आश्रय स्थलों में 13225 निरीश्रित एवं बेसहारा पशु संरक्षित है – मुख्य पशु चिकित्साधिकारी

हरदोई ( अनुराग गुप्ता ) । मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा0 जे0एन0 पाण्डेय ने बताया है कि जनपद के ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में 125 पशु आश्रय स्थलों में 13225 निरीश्रित एवं बेसहारा पशु संरक्षित है और पशुओं के भरण पोषण हेतु वर्ष भर हरा चारे की उपलब्धता बनाये रखने हेतु सभी पशु आश्रय स्थलों में मनरेगा चारा विकास योजना के तहत सुपर हाईब्रिड नेपियर घास की रोपाई कराने की योजना बनाई गयी है।
उन्होने कहा कि इसी क्रम में ब्लाक सुरसा की ग्राम बिराहिमपुर में संचालित अस्थाई गोवंश आश्रय स्थल की खाली जमीन को पशु चिकित्साधिकारी सुरसा डा0 श्याम त्रिपाठी द्वारा स्वयं बैलों से हल चलाकर खेत को तैयार किया तथा हाईब्रिड नेपियर घास की 22000 सेपिलंग की रोपाई की। श्री पाण्डेय डा0 त्रिपाठी की सराहना करते हुए कहा कि पशु चिकित्साधिकारी द्वारा किये जा रहे इस कार्य की चर्चा एवं प्रशंसा ग्रामीणों द्वारा की जा रही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button