Uncategorised

16 घंटे के अंदर तिवारीपुर पुलिस ने युवक को किया गिरफ्तार

गोरखपुर(राजेश शिलांकुर):बड़ा आदमी बनने के लालच में कक्षा दसवीं का छात्रा एक नेटवर्किंग कंपनी में काम करने के लिए घर से ₹15000 तो जमा करा दिया लेकिन जब कंपनी द्वारा बताए गए कार्यों की जिम्मेदारी युवक को दी गई तो युवक घबराकर घर से बिना बताए फरार हो गया। जिसकी सूचना देर रात परिजनों ने तिवारीपुर पुलिस को दी ।तिवारीपुर थाना प्रभारी सत्य प्रकाश सिंह ने बताया कि घटना की गंभीरता को देखते हुए अज्ञात के खिलाफ अपरहण का मुकदमा दर्ज करके युवक की छानबीन शुरू की गई। प्रथम दृष्टया पुलिस को लगा कि युवक कहीं नदी में तो नही डूब गया है। जिसको लेकर पुलिस ने तिवारीपुर थाना क्षेत्र के आसपास युवक के गायब होने की सूचना का प्रचार-प्रसार भी कराया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ सुनील गुप्ता के आदेशानुसार व पुलिस अधीक्षक नगर के पर्यवेक्षण में क्षेत्राधिकारी कोतवाली नेतृत्व में तिवारीपुर थाना प्रभारी सत्य प्रकाश सिंह ने घटना को गंभीरता से लेते हुए महज 16 घंटे के अंदर ही युवक को बरामद करने में सफलता हासिल की। मिली जानकारी के अनुसार स्वर्गीय परशुराम पुत्र अंकित कुमार निवासी पिपरापुर थाना तिवारीपुर का रहने वाला है। जो कक्षा दसवीं का छात्र है। अधिक पैसा कमाने के लालच में हेल्थ केयर नेटवर्किंग कंपनी में काम करने के लिए उसने घर से ₹15000 लेकर जमा कराया लेकिन कार्य का दबाव होने पर वह बिना बताए 15 जुलाई को निकल गया जिसकी सूचना देर शाम परिजनों ने तिवारीपुर को दिया। सूचना पर पुलिस ने 442 /20 धारा 363 आईपीसी अज्ञात के खिलाफ अपरहण का मुकदमा दर्ज कर युवक की छानबीन में लग गई मुखबीर के जरिए सूचना मिली कि युवक मगहर के पास देखा गया है तत्काल थाना प्रभारी ने टीम गठित कर पकड़ने के लिए भेजा। युवक अयोध्या जाने की फिराक में था। पूछताछ के दौरान पकड़े गए युवक ने बताया कि वह अयोध्या बाबा बनाने जा रहा था इसके बाबा भी 4 साल पहले घर से भागकर अयोध्या में बाबा बन गए थे। पुलिस ने कड़ाई से जब युवक से पूछताछ की तो युवक ने स्वीकार किया कि वह नेटवर्किंग कंपनी में कार्य के दबाव को देखकर घर से भाग गया था। वह उस कंपनी में काम नहीं करना चाहता है।बरामद करने वाली टीम में उप निरीक्षक शमशीर अहमद उप निरीक्षक गुरुप्रसाद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button