Uttar Pradesh

अंतरराष्ट्रीय कमर्शियल यात्री सेवाओं पर बढ़ाया गया प्रतिबंध

नई दिल्ली।कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के खतरे को देखते हुए भारत से या भारत आने वाली अंतरराष्ट्रीय कमर्शियल यात्री सेवाओं पर प्रतिबंध बढ़ा दिया गया है। अब यह प्रतिबंध 31 जनवरी 2022 तक लागू रहेगी। इससे पहले 15 दिसंबर से इन सेवाओं को फिर से शुरू करने का फैसला किया गया था। वहीं, अब ओमिक्रोन के खतरे के चलते नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने इस फैसले को वापस ले लिया है।गुरुवार शाम डीजीसीए द्वारा जारी एक नोटिस में कहा गया है कि प्रतिबंध अंतरराष्ट्रीय आल कार्गो संचालन और विशेष रूप से डीजीसीए द्वारा अनुमोदित उड़ानों पर लागू नहीं होंगे।इस बीच, डीजीसीए ने सिंगापुर को खतरे वाली सूची से हटा दिया है। खतरे वाली सूची से आने वाले लोगों को कोरोना प्रोटोकाल के तहत एयरपोर्ट पर ही कोरोना जांच समेत अतिरिक्त पाबंदियों का सामना करना पड़ता है। इसमें दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना और चीन समेत कई देश इस खतरे वाली सूची में आते हैं।

बता दें कि कोरोना महामारी के कारण भारत में 23 मार्च 2020 से अंतर्राष्ट्रीय यात्री सेवाओं को निलंबित कर दिया गया है। लेकिन वंदे भारत मिशन के तहत मई 2020 से और जुलाई 2020 से चुनिंदा देशों के साथ द्विपक्षीय ‘एयर बबल’ व्यवस्था के तहत विशेष अंतरराष्ट्रीय उड़ानें संचालित हो रही हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button