Sultanpur

यादव के घर में जन्म लिया हूं यही हमारी गलती:बीएम यादव

कार्यकर्ताओं के साथ हमेशा खड़ा मिलूंगा

असली हकदार थे बीएम यादव

सुल्तानपुर(ब्यूरो)। इसौली विधानसभा क्षेत्र के वरिष्ठ सपा नेता बीएम यादव ने पार्टी कार्यकर्ताओं, समर्थकों, शुभचिंतकों के नाम संदेश भेजा है। बीएम यादव ने भेजे गए संदेश में कहा है कि इसौली क्षेत्र से पिछले 28 वर्षों से एक सामान्य कार्यकर्ता की हैसियत से पार्टी की सेवा करते हुए चुनावी वर्ष 2007, 2012, 2017 में विधायक के प्रत्याशी के रूप में एवं चुनावी वर्ष 2022 के चुनाव की तैयारी कर रहा था। इस दौरान मुझे अपने समस्त इसौली विधानसभा क्षेत्र के और पूरे प्रदेश के अपने चाहने वाले भाइयों का अपार प्यार, दुलार, बड़ों का आशीर्वाद, छोटों का प्रेम, अपनी माताओं-बहनों का अपार स्नेह व सहयोग मिला और विपक्ष की सरकार में एवं मौजूदा विधायक के रहते हुए भी आप लोगों ने जिस तरह से खुलकर मेरा सहयोग एवं समर्थन और हमारी ताकत को बढ़ाने का काम किया तथा शीर्ष नेतृत्व तक अपनी ताकत का एहसास करा कर यह जता दिया की इसौली विधानसभा क्षेत्र में बीएम यादव के साथ में बहुत भारी जनसमर्थन भी है। इसके लिए हृदय की गहराइयों से आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद एवं आभार व्यक्त करता हूं, आजीवन ऋणी रहूंगा, हमेशा की तरह जो मेरे लायक सेवा होगी उसको आदेशित कीजिएगा। पूर्व की तरह आप सभी की सेवा करता रहूंगा। सुल्तानपुर से लेकर प्रदेश स्तर तक कि जो भी लड़ाई होगी वह मैं लड़ूंगा।प्रिय बंधुओं टिकट मेरे हाथ में नहीं था परंतु आप सब ने जिस संगठित रूप से अपने समाज के इस अदना से कार्यकर्ता को इतनी ताकत देकर इसौली विधानसभा का चहेता हर दिल अजीज सितारा बना दिया था,उस सितारे का यादव कुल में जन्म लेना वह भी जनपद सुलतानपुर में मानो अभिशाप स्वरूप हो गया। साथियों समाज के प्रतिनिधि के रूप में यह हार सिर्फ बीएम यादव की हार नहीं हुई है बल्कि सुल्तानपुर जनपद में यदुकुल में जन्म लेने वाले और समाजवादी पार्टी की सियासत करने वाली यदुवंशी युवा पीढ़ी के सपनों का भी अंत कर दिया गया है। टिकट की इस हार से शायद अब हमारा समाज समाजवादी पार्टी में विधानसभा चुनाव के लिए भविष्य में इस बार जैसी ऊर्जा के साथ अपने अधिकार की लड़ाई अब ना लड़ पाएगा, जो बीएम यादव के रूप में आप सब ने मिलकर लड़ी है। शायद समाजवादी पार्टी में किसी यादव के लिए विधानसभा चुनाव का टिकट मांगना खुद का मजाक बनाना होगा क्योंकि सपा में बाकी सब के लिए तो विधानसभा चुनाव का टिकट है पर यादव समाज के लिए नहीं है। अपने समाज के आज के नौजवानों और आने वाले कल के साथियों से मैं क्षमा चाहता हूं कि मैं उनकी लड़ाई हार गया हूं, क्योंकि सुल्तानपुर जनपद में यादव के घर में जन्म लिया हूं यही हमारी गलती है। मैं गरीब किसान परिवार से हूं फिर भी मैं हिम्मत नहीं हारा हूं। आप लोग की लड़ाई पूर्व की तरह ही हम लड़ेंगे और जीतेंगे भी, साथियों डॉ लोहिया कहा करते थे,जिंदा कौमें 5 साल इंतजार नहीं किया करती। आप सब जागरूक एवं समझदार हैं आप सबके लिए इतना ही काफी है।
मैं जैसा था वैसा ही रहूंगा मेरे अंदर कोई बदलाव देखने को आप सब को नहीं मिलेगा। आपका भाई आपका साथी हमेशा आपके साथ खड़ा मिलेगा। सभी इलेक्ट्रॉनिक एवं प्रिंट मीडिया के पत्रकार बंधुओं का मेरे साथ अपार सहयोग रहा उसके लिए मैं अपने पत्रकार बंधुओं को भी हृदय गहराइयों से धन्यवाद देता हूं l
मुझे इसौली विधानसभा क्षेत्र से यादव होने के कारण विधायक का टिकट नहीं मिल पाया जिससे स्वयं और हमारे सभी सम्मानित साथी गण और इसौली विधानसभा क्षेत्र की सम्मानित देव तुल्य जनता जनार्दन बहुत व्यथित एवं आहत है l मेरे सम्मानित साथी गण, समर्थक, शुभचिंतक व कार्यकर्ता गण और इसौली विधानसभा क्षेत्र की देव तुल्य जनता जनार्दन ने आज मुझसे फोन पर हालचाल पूछा और मंत्रणा की मैं उन का भी तहे दिल से आजीवन शुक्रगुजार रहूंगा और मैं आशा ही नहीं पूर्ण रूप से दिल से विश्वास दिलाता हूँ की राजनीति में टिकट मिलना ना मिलना एक दूसरी बात है लेकिन मैं आपके सुख दुःख में हमेशा पूर्व की भांति शामिल होता रहूंगा और आप सभी के परिवार का हिस्सा बनकर भाई एवं बेटे जैसा काम करूंगा, आपको मेरी जब भी जरूरत होगी हम आपके साथ खड़े दिखाई देंगे।आप लोग भी पूर्व की तरह हमारा साथ प्यार एवं दुलार देते रहिएगा।टिकट की व्यस्तता के कारण जिन साथियों का कल और आज टेली फोन रिसीव नहीं कर पाया हूं उसके लिए क्षमा प्रार्थी हूं बहुत साथियों को रिटर्न टेलीफोन करके बात कर कर लिया हूं परंतु अभी भी बहुत सारे सम्मानित साथी बचे हुए हैं जिनको टेलीफोन नहीं कर पाया हूं क्रमशः उन सभी साथियों से कल तक वार्तालाप करने का वादा भी करता हूं।
इसी शुभकामनाओं के साथ पुनः आप सभी का एक बार फिर से बहुत-बहुत धन्यवाद एवं आभार व्यक्त करता हूं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button