Uttar Pradesh

Twitter :- क्या वाकई हिन्दू विरोधी हैं अखिलेश यादव ??

संजीव जायसवाल की रिपोर्ट….

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आज लखनऊ में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हुए प्रदर्शन के दौरान मारे गए लोगों के परिजनों से मिले जिसके बाद ट्विटर पर लोगों ने उन्हें हिन्दू विरोधी बताना शुरू कर लिया। यूजर्स ने #हिन्दू_विरोधी_अखिलेश हैशटैग के साथ अखिलेश को ट्रोल करना शुरू कर दिया। यूजर्स अखिलेश यादव को लेकर लगातार तीखी प्रतिक्रिया दे रहे थे। इस दौरान #हिन्दू_विरोधी_अखिलेश हैशटैग टॉप थ्री में ट्रेंड करता रहा।

एक यूजर ने लिखा कि ” दंगे में मरे लोगों को अखिलेश यादव पेंशन देंगे योगी आदित्यनाथ को दोबारा मुख्यमंत्री बनने की हार्दिक बधाई”। वहीं एक और यूजर ने लिखा कि CAA का विरोध करके अखिलेश यादव ने पुनः सिद्ध कर दिया है कि उनका लोहिया जी के वचन, भावना और उनके दर्शन से अब कोई सम्बन्ध नहीं है”। एक और यूजर ने अखिलेश यादव पर तीखा प्रहार करते हुए लिखा कि “जो पत्थर बाजों के घर जा कर 5 लाख देता है वो हिन्दू विरोधी है।’

बता दें कि आज लखनऊ में अखिलेश यादव नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हुए प्रदर्शन के दौरान मारे गए लोगों के परिजनों से मिले थे और उन्हें पांच लाख रुपये देने की घोषणा की थी। जिसके बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने उन्हें हिन्दू विरोधी बताना शुरू कर दिया और जमकर ट्रोल किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button