उन्नाव

खण्ड़ विकास अधिकारियों को जन कल्याणकारी योजनाओं के लक्ष्यों को समय से पूरा करने के जिलाधिकारी ने दिये निर्देश

 

उन्नाव (ब्यूरो रिपोर्ट)। जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार ने विकास भवन सभागार में समस्त खण्ड़ विकास अधिकारियों एवं विभिन्न विभागो से जुडे़ अधिकारियों को निर्देश दिये है। कि गरीब कल्याण रोजगार योजना लक्ष्य के प्राप्ति अभियान के तौर पर पूरा किया जाये। उन्होंने बताया कि मा0 प्रधान मंत्री जी प्रेरण स्त्रोत उन्नाव जनपद रहा है। जुलाई तक लक्ष्य को बढाना है। योजना में डेलीवेसिस खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिये कि हर रोज इस योजना को देखे शासना देश के अनुसार 12 विभागों की 15 स्कीम में 25 तरह के अन्दाज देना है।सम्बन्धित अधिकारी अपना लक्ष्य बनाकर गुणवत्ता पूर्ण समय से पूर्ण करेगे। जो भी कार्य करेगें वेवसाइट पर रहेे। इसके लिए विशेष ध्यान आपका आपेक्षित है। इसके क्रियान्वयन में वही गति रहगी तब हम उन्नाव के नाम से प्ररेणा जो हुई उसको 116 में प्रथम आने का लक्ष्य प्राप्त कर पाएंगे। कन्या सुमंगला योजना शासन की स्कीम है। सुमंगला योजना में 614 आवेदन हुये है। श्रेणी 01 व 02 है। अप्रैल से जिन बालिकाओं का जन्म हुआ उनका क्या रजिस्टेशन हुआ। आशा बहुओं को जो इस समय क्षेत्र में काम कर रहे है। श्रेणी 01 व 02 सी0एम0ओं0 श्रेणी 02 व 04 वी0एस0ए0 द्वारा कक्षा 01 व 06 में कितनी बच्चियों की पात्रता देखकर खण्ड़ शिक्षाधिकारी को लक्ष्य दे दे और वे रजिस्टेशन का कार्य करें। पात्रता का कालम बना ले उस अधार पर बना कर अपने स्कूल का डाटा तैयार कर ले। जिला विद्यालय निरीक्षक राजकीय विद्यालयों का डाटा तैयार करा लेे। सभी अधिकारियों का फार्म सरकुलेट कर दे ताकि कार्य सुगमता से हो सके।जिलाधिकारी ने संचारी रोग का अभियान साफ-सफाई का है। सभी अधिकारियों को निर्देश दिये कि अभियान चलाकर कार्य कराया जाये। फोटो गा्रफ भेजे जाये। ताकि पूरा ब्लाँक कवर हो जाये। अधूरे पडे शौचालय पूर्ण करा ले। इसको वेरीफाइड करा ले। जहा शौचालय नही बने है। पैसा खर्च हो गया है। उनके विरूद्ध एफ0आई0आर दर्ज कराने को कहा जिन स्थानो पर मांग के अनुरूप सामुदायिक शौचालय बनाये जाये। वृक्षारोपण रूचि लेकर कार्य करें। खण्ड विकास अधिकारी पौधों को गोद लेकर कार्य करें उसका को पोषणयुक्त करे। छोटी से छोटी बडी से बडी जिम्मेदारी तय कर पौध रोपण का कार्य करे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button