Lakhimpur-khiri

घर से अगवा कर बंधक बनाकर युवक की बेरहमी से पिटाई के मामले को फर्जी बता रही कोतवाली पुलिस,नहीं दर्ज किया मुकदमा

 

दो दिनों से कोतवाली के चक्कर काट रहा है पीड़ित,अभद्र भाषा का प्रयोग कर थाने से भगा देते हैं कर्मी

किसी बड़ी घटना के इंतजार में कोतवाली पुलिस,मर्डर का भी अभी तक नहीं कर पाई खुलासा

धीरज गुप्ता/एस.पी.तिवारी

पलियाकलां-खीरी।कोतवाली पुलिस के लापरवाह रवैये के चलते क्षेत्र में तेजी के साथ अपराधों के ग्राफ में बढ़ता रही है। 17 दिनों के बाद अभी तक पुलिस मर्डर में शामिल आरोपियों को गिरफ्तार तो करना दूर उनकी शिनाख्त तक नहीं कर सकी है। वही तीन दिन पूर्व घर से युवक को अगवा करते हुए हाथ पैर बांधकर उसे बुरी तरह पीटने के साथ करंट लगाकर जान से मार देने की कोशिश के मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज करना तक उचित नहीं समझा है। जब पीड़ित का पिता कोतवाली में जाकर मुकदमा दर्ज करने की मांग करता है तो उससे अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए भगा दिया जाता है।
बता दें कि पुलिस से बेखौफ कुछ दबंगों ने घर में सो रहे एक युवक को अगवा कर लिया और उसके हाथ पैर बांधकर करंट लगाते हुए उसकी जमकर पिटाई कर दी थी और अचेत अवस्था में छोड़कर चले गए थे। सुबह परिजनों को युवक खेत के किनारे एक गड्ढे में हाथ पैर बंधे होने के साथ बेहोशी की हालत में पड़ा हुआ मिला था।
सीएचसी में भर्ती कराने के बाद पीड़ित के पिता राम लोटन पुत्र बड़कन्ने निवासी गजरौरा ने कोतवाली पुलिस को तहरीर देकर मुकदमा दर्ज करते हुए आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की थी। तीन दिन बीतने के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी करना तो दूर पुलिस ने पीड़ित का मुकदमा तक दर्ज नहीं किया है। वहीं शहर के मोहल्ला इकराम नगर निवासी मोहम्मद हुसैन पुत्र अब्दुल सलाम की शारदा नदी पर मछली मारने के दौरान हत्या कर शव नदी में फेंक दिया गया था। हत्या की घटना को आधा माह से अधिक बीत चुका है लेकिन अभी तक पुलिस घटना में शामिल आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। पलिया कोतवाली पुलिस की लापरवाह कार्यप्रणाली के चलते क्षेत्र में अपराधों का ग्राफ तेजी के साथ बढ़ता जा रहा है। अपराधों की घटनाओं को अंजाम देने वाले अपराधियों तक पुलिस के हाथ न पहुंच पाने के चलते अपराधी बेखौफ होकर अपराध करने में लगे हुए हैं। युवक को अगवा कर मारपीट के मामले में जानकारी लेने पर कोतवाल भानु प्रताप ने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला फर्जी लग रहा है लेकिन फिर भी मामले की जांच की जा रही है। मुकदमा अभी तक क्यों नहीं लिखा गया इस बारे में वह कोई जवाब नहीं दे सके।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button