Basti

डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी बलिदान दिवस: पुण्यतिथि नमन

 

बस्ती(रुबल कमलापुरी)। 23 जून को भाजपा कार्यकर्ताओं ने डाॅ श्यामा प्रसाद मुखर्जी बलिदान दिवस के रूप में मनाया गया भाजपा मंडल गौर अध्यक्ष विजय गुप्ता के अध्यक्षता में विडियो कांफ्रेसिंग के द्वारा बूथ अध्यक्ष सेक्टर अध्यक्ष मंडल पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता जुड़े रहे कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में भाजपा व्यापार प्रकोष्ठ जिला संयोजक बस्ती राधेश्याम कमलापुरी ने डाॅ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी पे प्रकाश डाला एक देश दो विधान दो निशान दो प्रधान नहीं चलेंगे का नारा देने वाले राष्ट्रीय एकता एवं अखंडता के प्रयाय जन संघ के संस्थापक महान शिक्षा विद प्रमुख राष्ट्र वादी डाॅ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी के बलिदान दिवस पर शत् शत् नमन किया भारतीय इतिहास का वह चमचमाता हुआ पन्ना है जब भारत माँ के एक वीर सपूत – डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने देश की अखण्डता के लिए अपने प्राण त्यागे थे। जिस कारण से डॉ . मुखर्जी को याद किया जाता है, वह है जम्मू कश्मीर के भारत में पूर्ण विलय की माँग को लेकर उनके द्वारा किया गया सत्याग्रह एवं बलिदान। 1947 में भारत की स्वतन्त्रता के बाद गृहमन्त्री सरदार पटेल के प्रयास से सभी देसी रियासतों का भारत में पूर्ण विलय हो गया; पर प्रधानमन्त्री जवाहरलाल नेहरू के व्यक्तिगत हस्तक्षेप के कारण जम्मू कश्मीर का विलय पूर्ण नहीं हो पाया। उन्होंने वहाँ के शासक राजा हरिसिंह को हटाकर शेख अब्दुल्ला को सत्ता सौंप दी। शेख जम्मू कश्मीर को स्वतन्त्र बनाये रखने या पाकिस्तान में मिलाने के षड्यन्त्र में लगा था। कांफ्रेसिंग में मुख्य रुप से जुड़े रहे राजेश कमलापुरी, स्कंद शुक्ला, मुरार जी गुप्ता, कृष्ण कुमार तिवारी, दीपक सिंह, रामबाबू कमलापुरी, राकेश यादव मंशाराम, अनिल कुमार आदि लोग जुडे़ रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button