Uttar Pradesh

कैमरे में कैद हुआ दुर्लभ पक्षी शिवहंस का जोड़ा व लालसर का झुंड

देर से पड़ी ठंड के कारण इस वर्ष कम संख्या में आये प्रवासी पक्षी

मिहींपुरवा-बहराइच(मदन पोरवाल)। सोमवार को कतर्नियाघाट भ्रमण पर वन एवं वन्य जीवों के संरक्षण संबंधित कार्य हेतु कतर्नियाघाट फ्रेंड्स क्लब बहराइच की पाँच सदस्यीय टीम जिसमें क्लब अध्यक्ष भगवान दास लखमानी, सचिव राजीव श्रीवास्तव, सदस्य अमन लखमानी, अंकुर राव व मिथिलेश जायसवाल थे। इस दौरान क्लब की टीम जब गिरजापुरी बैराज से गुजर रही थी तभी टीम को गिरजापुरी बैराज के निकट एकांत में कुछ पक्षी तैरते दिखाई पड़े। दूरबीन से देखने पर पता चला कि वह अत्यंत दुर्लभ प्रवासी पक्षी शिवहंस का जोड़ा और लालसर का झुंड है।
अत्यत दुर्लभ प्रवासी पक्षी शिवहंस का जोड़ा और लालसर के झुंड देख क्लब की टीम को खुशी का ठिकाना न रहा। क्लब के वन्य जीव फोटोग्राफर अमन लखमानी ने बिना देर किये इन प्रवासी पक्षियों को कैमरे में कैद किया। भ्रमण से लौटकर आये कतर्नियाघाट फ्रेंड्स क्लब के अध्यक्ष भगवान दास लखमानी ने बताया कि शिवहंस पनडुब्बी परिवार का सबसे बड़ा पक्षी है। और अपने प्रजनन काल के लिए मशहूर है। इसके नर और मादा एक समान होते हैं। परंतु प्रजनन काल में नर के सिर पर एक काली चोटी निकल आती है और गले के नीचे का भाग सुर्ख हो जाता है ये उत्तरी अफ्रीका व यूरोप से प्रवास करने भारत आते हैं ।
इसके विपरीत लालसर बड़ी संख्या में दक्षिणी साइबेरिया से प्रवास करने भारत आते हैं। उन्होंने बताया इस वर्ष देर से पड़ी सर्दी के कारण कतर्नियाघाट आने वाले प्रवासी पक्षियों की संख्या कम रही है ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button