Sultanpur

सुल्तानपुर में भाजपा और बाबा पर खूब बरसे अखिलेश यादव

मोदी पर किया पलटवार

जनता ने खटिया खड़ी कर दी तो दे रहे घटिया बयान

साइकिल को कर रहे बदनाम

सुल्तानपुर(विनोद पाठक)।समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सुल्तानपुर की पांच विधानसभा सीटों पर पार्टी प्रत्याशियों के समर्थन में जनसभा करने पहुंचे। शहर के अमहट स्थित पुरानी हवाई पट्टी पर लाखों की भीड़ को संबोधित करते हुए अखिलेश ने पीएम नरेंद्र मोदी के साइकिल वाले बयान पर पलटवार किया। उन्होंने कहा कि जब से जनता नें इनकी खटिया खड़ी कर दी है तब से यह घाटिया बयान देकर साइकिल को बदनाम कर रहे।

काका की तरह बाबा भी जाएंगे

वैसे यहां अखिलेश यादव के बयान में खास बात यह रही कि उन्होंने कांग्रेस और बसपा को अपने निशाने से दूर रखते हुए अपना सारा निशाना भाजपा, मोदी और योगी पर साधा। अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी के लोग ABCD सुना रहे लेकिन जैसे काका गए हैं वैसे ही बाबा भी जाएंगे। इसके बाद उन्होंने काका का अर्थ भी बताया बोले काका यानी काले कानून। वो यही नहीं रुके आगे कहा कि किसानों खाद मिली नहीं, जो बोरियां मिली उसमें से चोरी हो गई थी। बीजेपी पर हमलावर होते हुए अखिलेश बोले कि बीजेपी के बड़े नेता बड़ा झूठ बोलते हैं और सबसे बड़े नेता सबसे बड़ा झूठ बोलते हैं।

चौथे पांचवें चरण के बाद भाजपा होगी शून्य

अखिलेश यादव ने यह भी कहा कि आज चौथे चरण के प्रचार का आखरी दिन है पहली बार पांचवें चरण में प्रचार करने आया हूं। फिर उन्होंने कहा कि पहले चरण में जीत, दूसरे-तीरे और चौथे में समर्थन मिला अब पांचवें में उससे ज्यादा समर्थन मिल रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता कह रहे गर्मी उतार देंगे। लेकिन पहले-दूसरे चरण में जनता ने इतना वोट दिया कि वो ठंडे पड़ गए। तीसरे चरण में वोट पड़ा तो भाजपा के नेता सुन पड़ गए। और चौथे-पांचवें चरण में वोट पड़ेगा तो भाजपा शून्य पड़ जाएगी। भाजपा के बूथ पर भूत बचेंगे।

बुलडोजर बाबा के जानवर करा रहे एक्सीडेंट

पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का जिक्र करते हुए अखिलेश ने कहा कि बुलडोजर बाबा के दिए जानवर एक्सीडेंट करा रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि पूर्वांचल का उद्घाटन करने क लिए कैंची दिल्ली से आई और फीता लखनऊ से और उनके बड़े नेता चार पहिया वाहन पर थे तो बुलडोजर बाबा पैदल। उन्होंने कहा कि सड़क पर हवाई जहाज उतारना समाजवादियों की सोच है पीएम मोदी गुजरात के कई बार मुख्यमंत्री रहे एक बार ऐसी सड़क नहीं बना पाए। उनके कार्यक्रम में पूर्व विधायक अरुण वर्मा,पूर्व विधायक भगेलू राम, अनूप संडा,पूर्व विधायक संतोष पाण्डेय, ताहिर खान, रघुवीर यादव,जिलाध्यक्ष पृथ्वी पाल, जिला महासचिव सलाहुद्दीन अहमद,विधायक अबरार पूर्व मंत्री जानकी पाल, पूर्व मंत्री रघुवीर यादव, युवा सपा नेता बृजेश यादव,जिला पंचायत सदस्य राम शंकर यादव,बल्दीराय ब्लाक अध्यक्ष शिवम श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।

संतोष पांडे के साथ ब्राह्मणों का कद बढ़ा गए अखिलेश

अमहट में हुई सपा की चुनावी सभा में पूर्व विधायक संतोष पांडेय के साथ साथ ब्राह्मण समाज का भी अखिलेश यादव कद बढ़ा कर गए। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने लखनऊ में स्थापित भगवान परशुराम की प्रतिमा के बहाने ब्राह्मण मतदाताओं को साधने की कोशिश की। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि लंभुआ के सपा प्रत्याशी पूर्व विधायक संतोष पांडेय को धन्यवाद देता हूं कि इन्होंने लखनऊ में भगवान परशुराम की प्रतिमा स्थापित की, मंदिर बनवाया, मुझे पूजन अर्चन करने का मौका मिला। भगवान परशुराम के मंदिर पर ऐतिहासिक फरसा पूर्व विधायक संतोष पांडेय ने स्थापित किया है। मैं मंच के माध्यम से भरोसा दिलाता हूं कि भाजपा सरकार ने भगवान परशुराम की जयंती के अवकाश को जो खत्म कर दिया है, सरकार बनने पर अवकाश घोषित किया जाएगा। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि संस्कृत पढ़ाने वाले शिक्षक और संस्कृत विद्यालय का विकास किया जाएगा। संस्कृत भाषा हमारी संस्कृति को बढ़ावा देती है। निश्चित तौर पर जब भी सूबे में सपा की सरकार बनी तो ब्राह्मण समाज का सम्मान बड़ा और संस्कृत भाषा को बढ़ावा देने के लिए सपा सरकार ने काम किया है संस्कृत भाषा पर ब्राह्मण के साथ साथ विद्वान लोगों का जन्मसिद्ध अधिकार है सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष की घोषणा से निश्चित तौर पर ब्राह्मण समाज का कद बढ़ा है और संस्कृत भाषा को सपा की सरकार बनने पर विकास करने का रास्ता सपा मजबूत करेगी।

 

सुल्तानपुर के मतदाता बाबा की निकालेगी “भाप”

चुनावी सभा को संबोधित करते हुए सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने सूबे के मुख्यमंत्री पर खूब तंज कसे। कभी बुलडोजर बाबा तो कभी नाम बदलने वाले बाबा के नाम पर सीएम को घेरने का काम किया। कहा कि बाबा बताते थे कि हम दिन में बारह बजे सो के उठते हैं तो मैंने भी उनकी निगरानी करनी शुरू की। क्योंकि मेरे और बाबा के आवास में मात्र एक बीघे का फासला है। उन्होंने कहा कि जब मैं निगरानी करना शुरू किया तो देखा कि समय-समय पर बाबा के आवाज से धुआं निकलता है। अब पांचवें चरण चुनाव में जनपद सुल्तानपुर के लोग पांचो विधानसभा सीट जीता कर बाबा की “भाप” निकालने का काम करेंगे। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष यहीं पर नहीं रुके। उन्होंने कहा कि पहले बाबा अयोध्या,फिर प्रयागराज, फिर देवबंद से चुनाव लड़ना चाहते थे, लेकिन अब गोरखपुर से चुनाव लड़ रहे हैं। तो वहां की जनता गाना गा रही है कि तू लौट के आजा मेरे मीत…..का गाना भी सुनाया। मतलब कि अब बाबा को गोरखपुर से वापस लखनऊ नहीं आना है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button