Uttar Pradesh

अखिलेश यादव बोले -जितना विपक्ष बोलेगा लोकतंत्र उतना मजबूत होगा

लखनऊ।उत्तर प्रदेश विधानसभा में बतौर नेता प्रतिपक्ष अपने पहले कार्यकाल के पहले ही भाषण में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सरकार को घेरने की कोशिश की। विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना को उनकी कुर्सी पर बैठाने के बाद उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बाद सदन को संबोधित किया।अखिलेश यादव ने विधानसभा के अध्यक्ष की कुर्सी पर बैठे कानपुर से लगातार कई चुनाव जीतते रहे सतीश महाना को अपने ही अंदाज में बधाई दी। उन्होंने मुस्कुराते हुए कहा कि हालांकि आप राइट साइड (सत्ता पक्ष की ओर) से आए हैं लेकिन यहां आपको लेफ्ट (विपक्ष) की तरफ देखना है। चुटीले अंदाज और इशारों ही इशारों में सरकार पर तंज कसते हुए अखिलेश ने कहा कि आगे जब हम सवाल उठाएंगे तो हमें आपकी जरूरत पड़ेगी। आप विपक्ष को भी बोलने का उतना ही मौका दीजिएगा जितना सत्ता पक्ष को। हमको तो भरोसा है कि आप हम सभी सदस्यों के अधिकारों की रक्षा करेंगे।अखिलेश यादव ने कहा कि नेता सदन ने बहुत सी चीजें विस्तार से रखी हैं, मैं उनसे अपने आपको सम्बद्ध करता हूं। नेता सदन ने कहा है कि आपके नाम में तो पहले से ही महान जुड़ा हुआ है। इस पद से जो परम्परा जुड़ी है, स्पीकर कोई बनना नहीं चाहता था। जहां से यह संसदीय लोकतंत्र हम अपना रहे हैं। कई सौ वर्ष पहले जहां किसी को कभी स्पीकर बनाया जाता था वो छिप जाया करता करता था। इसी लोकतंत्र को बचाने के लिए न जाने कितने स्पीकर कुर्बान हुए होंगे। स्पीकर जब छिप जाता था तो लोग घसीटकर लाते थे। कोई स्पीकर नहीं बनना चाहता था। मैं तो बधाई दूंगा कि आप छिपे नहीं। हमें और नेता सदन को आपको ढूंढने की जरूरत नहीं पड़ी। आपकी जिम्मेदारी बहुत बड़ी है।
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि आप जिस पद पर बैठे हैं वहां से समय-समय हमें आपके संरक्षण की जरूरत होगी। कई बार ऐसा होगा जहां हमें आपकी जरूरत पड़ेगी। बिना आपके स्वस्थ लोकतंत्र नहीं चल सकता। हालांकि आप राइट साइड से आए हैं लेकिन ध्यान आपको लेफ्ट साइड का रखना है। अब आपको उन्होंने छोड़ दिया है। हमें उम्मीद है कि निष्पक्ष हैं आप। आपको उन्होंने छोड़ दिया है स्पीकर की पोस्ट पर बिठाकर। अब राइट की तरफ नहीं देखेंगे आप। आप सिर्फ लेफ्ट की तरफ देखिए। आप तो हाउस के रेफरी हैं, कभी गेम का हिस्सा न बन जाइएगा क्योंकि आप राइट से आए हैं। अखिलेश यादव ने कहा कि मुझे आपका बायोडॉटा देखने को मिला है। मैंने जाना है कि आप कई महत्वपूर्ण समितियों में रहें हैं। आपके पास लंबा अनुभव है। उन्होंने कहा कि मैं बधाई देता हूं कि हमने एक ऐसा अध्यक्ष पाया है जो हंसमुख है। जो हम जैसा दिखता है।समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना की पूर्व में की गई विदेश यात्राओं का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि आप कई देशों की यात्रा कर चुके हैं। विदेश जाना भी जरूरी होता है। बस इतना कहूंगा कि अब विदेश यात्राओं के दौरान हमें भी याद रखिएगा। ऐसा ना हो कि सिर्फ राइट साइड के लोगों को लेते जाइएगा। अखिलेश यादव ने कहा कि यदि मैं विदेश न गया होता तो आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे नहीं बना पाता। आपके ही कानपुर में विश्व स्तरीय मेट्रो न बना पाता।नेता विरोधी दल अखिलेश यादव ने कहा कि विधानासभा अध्यक्ष कानपुर से आते हैं। नेता सदन ने अभी कोरोना की बात की। आगे हम कोरोना पर भी बहस करेंगे और आप जानते हैं कि सच क्या है। कानपुर शहर तो ऐसा है जहां लोगों ने कोरोना काल में सबसे ज्यादा रुपयों की निकासी की। मुझे खुशी है कि आज विधानसभा को अध्यक्ष के रूप में एक अनुभवी और मौजूदा चुनौतियों को समझने वाला नेता मिला है। अखिलेश यादव ने इस दौरान कहा कि जितना विपक्ष बोलेगा लोकतंत्र उतना मजबूत होगा। हमने आपको सर्वसम्मति से बैठाया है। इस बार का ध्यान रखिएगा कि सरकार तानाशाह मत बने। आपके पास बहुत अनुभव है। आप तो हम सदस्यों के अधिकारों की रक्षा आप करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button