Uttar Pradesh

लखनऊ से जानी तक पैदल आएंगे अमित जानी सपा रालोद गठबंधन से टिकट ना होने पे भी चुनाव लड़ने का ऐलान

लखनऊ।प्रसपा युवजन सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित जानी ने घोषणा की कि 12 जनवरी को वे अपना काफिला छोड़ के लखनऊ से पैदल पैदल अपने गाँव जानी के लिए कूच करेंगे। जानी आकर वे सिवालखास विधानसभा क्षेत्र के लोगो को सम्बोधित करके आगामी विधानसभा चुनाव के बारे मे रणनीति बनाएंगे। अमित जानी ने घोषणा की कि सपा रालोद गठबंधन से टिकट मिले ना मिलें वे चुनाव जरूर लड़ेंगे और जनता से सीधे सेवा करने का मौका मांगेगे। अमित जानी ने जानकारी दी कि प्रसपा का सपा से गठबंधन होने के बाद शिवपाल यादव ने उनसे कहा कि जयंत चौधरी के सामने अपना पक्ष रखकर् अपनी दावेदारी करो।कल उन्होंने जयंत चौधरी को अपने समीकरन् बताये और जानकारी दी कि उन्होंने बिना किसी पद् के विधानसभा के लोगो के लिए 2 साल मे करोड़ो रुपये का काम कराया है ।अमित जानी ने आरोप लगाया कि उनका अपमान किया गया और कहा गया कि विधानसभा चुनव कि छोड़ो जाकर पहले गाँव के प्रधान का चुनाव लड़ो। लखनऊ आने का ख्वाब छोड़ दो। इसीलिए मेने निर्णय लिया है कि वे अब तभी लखनऊ आएंगे जब उनके क्षेत्र के लोग उनको जिताकर लखनऊ भेजगे। यदि वे चुनाव नहीं जीते तो मरते दम तक लखनऊ मे कदम् नही रखेंगे। अमित जानी ने कहा कि अपनी गाड़ियां और काफिले को छोड़ के वे पैदल पैदल लखनऊ से 557 किलोमीटर दूर अपने गाँव आएंगे । जिसको लगे कि अमित जानी सही था वे अमित जानी का साथ दे। फेसबुक पे मार्मिक अपील करते हुए अमित जानी ने पोस्ट किया कि ये अमित जानी की पदयात्रा नही शवयात्रा है। लखनऊ वालो ने उनके विश्वाश को तोड़ के उनको रुला दिया है जैसे अर्थी के साथ लोग चलते है वैसे ही रास्ते मे समय मिलें तो मुझे 4कन्धे दे देना। अमित जानी ने कहा कि उनको शिवपाल यादव से कोई शिकायत नही है ना मै उनके विरोध मे ये यात्रा कर रहा हु लेकिन मै सिवाल की जनता को अकेले नही छोड़ सकता अपने समर्थको और जनता के लिए मै चुनाव लड़ूंगा भले ही मुझे निर्दलीय ही मैदान मे क्यू ना आना हो अमित जानी ने कहा कि जयंत भले ही हमे विधानसभा का चुनाव ना लड़ाए लेकिन हम उनको 2024 मे बागपत लोकसभा का चुनाव जरूर लड़वाएंगे

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button