Uttar Pradesh

गाजीपुर में गंगा नदी में 30 लोगों से भरी नाव पलटी, अब तक दो के मरने की पुष्टि

गाजीपुर।अठहठा गांव से बाजार कराने नौली गई 30 लोगों से भरी इंजन चालित नाव लौटते समय कुछ ही दूरी पर ओवरलोड के कारण पलट गई। इसमें सवार दो की मौत हाे गई हैं, वहीं पांच मासूम बच्चों की अभी भी तलाश चल रही है। नाविक ने तैर कर किसी तरह अपनी जान बचा ली। इसके अलावा 22 लोगों को स्थानीय ग्रामीणों की तत्परता से बचा लिया गया। घटना के बाद पूरे क्षेत्र में कोहराम मच गया और देखते ही देखते लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई।देर शाम जिलाधिकारी एमपी सिंह और पुलिस अधीक्षक रोहन पी. बाेत्रे पहुंचे और पूरी घटना की जानकारी ली। गंगा में आई बाढ़ के कारण अठहठा गांव चारों तरफ से घिर गया है, जिससे अन्य गांवों से उसका संपर्क कट गया है। ऐसे में गांव के लोग नाव से ही बाहर आ और जा रहे हैं। बुधवार को प्रशासन द्वारा लगाई गई इंजन चालित छोटी नाव खड़ी थी। देर शाम इसी नाव पर सवार होकर गांव के करीब 30 लोग जिसमें 15 पुरूष, 10 महिला और पांच बच्चे पास के ही गांव नौली बाजार करने गए थे।यहां से बाजार कर सभी करीब साढ़े चार बजे सायं लौट रहे थे। नाविक सभी लोगों को लेकर चला ही था कि कुछ ही दूरी पर नाव ओवरलोड होने के कारण अनियंत्रित होकर पलट गई। सवार सभी लोगों ने संभलने का प्रयास किया, लेकिन गहराई अधिक होने के कारण सभी डूबने लगे। नाविक राम सिंह मल्लाह तैर कर अपनी जान बचा ली। लोगों ने डूबता देख स्थानीय लोग ट्यूब और टायर लेकर बचाने के लिए पानी में कूद गए। 22 लोगों को ग्रामीणों ने बचा लिया। डबलू गोंड़ और नगीना पासवान की मौत हो गई।वहीं खुशहाल (15) पुत्र दयाशंकर, अलिशा (8) पुत्री कमलेश, सत्यम (16) पुत्र डबलू गौंड़, अमृता (8) पुत्री अनिल पासवान, बड़क (11) पुत्र शिवशंकर का पता नहीं चल सका। देर रात तक इनकी खोजबीन चलती रही। जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह और पुलिस अधीक्षक रोहन पी. बोत्रे मौके पर पहुंचे और पूरी घटना की जानकारी लेने के साथ ही मातहतों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button